जबलपुरमध्य प्रदेश

सिवनी में गिरे ओले

रुक रुक कर बरसे बादल फसलों को हुआ नुकसान

सिवनी यश भारत-
जिले में आज शनिवार को दोपहर बाद मौसम अचानक बदल गया।तेज हवाओं के साथ जहां मुख्यालय में रुक-रुककर शाम 6:30 तक वर्षा होते रही। वहीं बरघाट विधानसभा क्षेत्र के कुछ ग्रामो में वर्षा के साथ ओलावृष्टि हुई।इससे किसानों ने खेत में लगी खड़ी फसल को नुकसान पहुंचने की आशंका जताई है। तथा सब्जियों को भी नुकसान होने का अनुमान है। ओलावृष्टि की जानकारी राजस्व अमले को दी गई है। जहां अब राजस्व अमला सर्वे के काम में जुट गया है। और सर्वे पूर्ण होने के बाद यह स्पष्ट हो पायेगा की ओलावृष्टि से कितने ग्रामो की फसले प्रभावित हुई है। और नुकसानी की वास्तविक स्थिति क्या है।
बरघाट क्षेत्र के कोडि़यां, पोनार, गांगपुर, धारनाकला, घीसी, केकड़ई और बहरई समेत एक दर्जन गांव में चना, बैर आकार के पांच मिनिट से अधिक समय तक रुक रुक कर ओले गिरे।क्षेत्र के किसानों ने बताया के ओलावृष्टि से खेत में लगी खड़ी फसल को नुकसान हुआ है। गेहूं की फसल के साथ कई सब्जियों की फसल आलावृष्टि से प्रभावित हुई।किसानों ने प्रशासन से शीघ्र नुकसानी का सर्वे कराकर मुआवजा दिलाने की मांग की है।
किसानों ने यह भी बताया है कि खेतों में लहलहा रही जिन फसलों को देखकर वे खुश नजर आ रहे थे अब उसी फसल को देखकर चिंतित हैं।किसानों ने वर्षा और ओलावृष्टि से गेहूं, चना, मसूर के साथ सब्जियों में टमाटर, मटर, धनिया आदि फसलों को नुकसान पहुंचने की संभावना जताई है। वर्तमान में फसल की पैदावार अच्छी हुई और कुछ दिनों में फसल कटने की स्थिति में आ गई थी। लेकिन इस प्राकृतिक आपदा से बर्बाद हो गई है। राजस्व अधिकारियों का कहना है कि धूप निकलने और एक दो दिन बीतने के बाद नुकसानी की वास्तविक स्थित स्पष्ट हो पाएगी

Rate this post

Yash Bharat

Editor With मीडिया के क्षेत्र में करीब 5 साल का अनुभव प्राप्त है। Yash Bharat न्यूज पेपर से करियर की शुरुआत की, जहां 1 साल कंटेंट राइटिंग और पेज डिजाइनिंग पर काम किया। यहां बिजनेस, ऑटो, नेशनल और इंटरटेनमेंट की खबरों पर काम कर रहे हैं।

Related Articles

Back to top button