जबलपुरमध्य प्रदेश

साइबर क्राइम : ठगों से बचाना है तो यह तरीका अपनाएं… जल्दी पढ़ें

 

दमोहl  दमोह पुलिस अधीक्षक सुनील कुमार तिवारी के निर्देशन में एवं अति पुलिस अधीक्षक दमोह संदीप मिश्रा के मार्गदर्शन में पुलिस मुख्यालय भोपाल द्वारा चलाये जा रहे सायवर जागरूकता अभियान में सायवर प्रशिक्षण के संबंध में शर्मा कोचिंग क्लासेस दमोह में अध्धयनरत् छात्र-छात्राओ एवं समस्त स्टाफ को वर्तमान में हो रहे सायवर फ्राड को लेकर प्रशिक्षण दिया गया एवं उक्त प्रशिक्षण में सायवर फ्राड होने पर क्या करे एवं क्या न करे से सबंधित समस्त बातों को छात्र-छात्राओ को बताया गया एवं उनके बचने के उपाय भी बताये गये साथ ही सोशल मीडिया फ्राड एटीएम फ्राड जाव फ्राड मेल फिसिंग आदि के बारे में जानकारी दी गई इसके साथ ही वर्तमान में किस तरीके से फ्राड करने वाले आमजन को ठगी का शिकार बना कर रहे है के बारे में ऐसे सुरक्षित रहना है के तरीके भी बताये गये।

 

उक्त प्रशिक्षण सायवर सेल से प्रभारी निरीक्षक अमित मिश्रा,प्र.आर. सौरभ टंडन राकेश अठ्या एवं इस शर्मा कोचिंग क्लासेस दमोह संचालक श्री शरद गुप्ता प्रिंसिपल श्रीमति निधि गुप्ता शिक्षको का विशेष सहयोग रहा।

 

एडवाईजरी –

1. सोशल मीडिया जैसे इंस्ट्राग्राम, फेसबुक, ट्यूटर, व्हाट्सअप आदि एप्लीकेशन पर आवश्यक रूप से टू स्टेप वेरीफिकेशन करे।

2. कोई भी अपनी पर्सनल जानकारी (पिन/डेबिट कार्ड नंबर, ब्टट नंबर व्ज्च्) किसी व्यक्ति के साथ शेयर न करें और ना ही सोशल मीडिया पर अनजान व्यक्तियों की फ्रेंड रिक्वेस्ट स्वीकार करें।

3. फर्जी बैंक कॉल्स के झांसे में न आएं – जो आपको केवाईसी अपडेड कराने के नाम पर या बैंक अकाउंट/कार्ड ब्लॉक होने के बारे में बता रहे हैं।

4. ठग आपको लालच एवं डर के माध्यम से आपके साथ ठगी का प्रलोभन देते है आप उनकी बातों में न आये।

5. सुरक्षित पासवर्ड का उपयोग करेंः – एक मजबूत, अनूठा पासवर्ड का चयन करें और नियमित रूप से बदलें।

6. अपडेटेड सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म का उपयोग करेंः- सोशल मीडिया ऐप्स और साइट्स को समय-समय पर अपडेट करें ताकि सुरक्षा सुधारें जा सकें।

7. दूसरों के साथ जानकारी साझा करने से पहले सोचेंः- प्राइवेट जानकारी को केवल आपके भरोसेमंद और विश्वसनीय संपर्कों के साथ ही साझा करें।

8. अज्ञात यूजर्स से सतर्क रहेंः- अज्ञात यूजर्स द्वारा आए हुए फ्रेंड रिक्वेस्ट्स और संदेशों को सावधानीपूर्वक देखें और न अनजाने लिंक्स पर क्लिक करें।

9. गोपनीयता सेटिंग्स का ध्यान देंः- सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म्स पर गोपनीयता सेटिंग्स को सक्षम करें ताकि आपकी जानकारी केवल उन्हीं लोगों तक पहुंचे जो आप चुनें।

10. फेक अकाउंट्स से दूर रहेंः केवल विश्वसनीय सोशल मीडिया खातों को फॉलो करें और फेक या संदेहास्पद खातों को ब्लॉक करें।

11. साइबर अपराध की तत्काल सूचना नजदीकी पुलिस थाने/साइबर सेल को देने, ऑनलाइन शिकायत www.cybercrime.gov.in एवं हेल्पलाइन नंबर ‘‘1930‘‘ पर काल करें।

Rate this post

Yash Bharat

Editor With मीडिया के क्षेत्र में करीब 5 साल का अनुभव प्राप्त है। Yash Bharat न्यूज पेपर से करियर की शुरुआत की, जहां 1 साल कंटेंट राइटिंग और पेज डिजाइनिंग पर काम किया। यहां बिजनेस, ऑटो, नेशनल और इंटरटेनमेंट की खबरों पर काम कर रहे हैं।

Related Articles

Back to top button