जबलपुरमध्य प्रदेश

सरबजीत सिंह मोखा और देवेश चौरसिया के खिलाफ रासुका लगाने एसपी के पास भेजा प्रकरण

जबलपुर, यशभारत।
नकली इंजेक्शन प्रकरण में सिटी अस्पताल के संचालक सरबजीत सिंह मोखा और उसके साथी देवेश चौरसिया पर रासुका की कार्रवाई को लेकर ओमती पुलिस ने प्रकरण पुलिस अधीक्षक सिद्धार्थ बहुगुणा के पास भेज दिया है। अतिरिक्त  पुलिस अधीक्षक रोहित केशवानी ने ‘यशभारत ‘ को बताया कि दोनों के आरोपियों के खिलाफ एनएसए का प्रकरण तैयार कर एसपी के माध्यम से कलेक्टर के समक्ष पेश किया था। कलेक्टर द्वारा रासुका के आदेश जारी किए जाएंगे।

ये है मामला
01 मई को गुजरात की मोरबी जिले की टीम ने नकली रेमडेसिविर इंजेक्शन फैक्टरी का भंडाफोड़ किया। मामले में सात लोगों को गिरफ्तार किया। पूछताछ के आधार पर 6 मई को जबलपुर के आशा नगर निवासी सपन जैन को गुजरात पुलिस गिरफ्तार कर ले गई। सपन जैन, सिटी अस्पताल के कर्मी देवेश चौरसिया और इंदौर में गिरफ्तार क्षितिज राय, यश मेहंदी और विजय सहजवानी ने सिटी अस्पताल के संचालक सरबजीत मोखा की भूमिका को उजागर किया। मोखा ने 23 व 28 अप्रैल को गुजरात की नकली फर्म से दो कॉर्टून इंजेक्शन अम्बे ट्रांसपोर्ट के माध्यम से वाया इंदौर मंगवाया था।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button