कटनीजबलपुरमध्य प्रदेशराज्य

श्वानों की देखभाल नहीं करने का वीडियो सोशल मीडिया में वायरल : पुणे से पहुंची एनिमल क्राइम कंट्रोल की टीम, सात श्वानों का किया रेस्क्यू

 

कटनी, यशभारत। पालतू श्वानों की देखभाल सही तरीके से नहीं करने का एक वीडियो सोशल मीडिया में वायरल होने के मामला सामने आया है। यह वीडियो महाराष्ट्र और दिल्ली तक पहुंच गया। इस पर एनिमल क्राइम कंट्रोल एजेंसी, पीपल फॉर एनिमल टीम ने संज्ञान में लिया। पुणे से मीना भारद्वाज कटनी पहुंची।

 

टीम मेम्बर रजनी वर्मा, राजा जगवानी, ओमी नायक, हर्षिता सुन्नप, संकल्प नायक आदि ने श्वानों का रेस्क्यू कराया। बताया जाता है कि कोतवाली थाना क्षेत्र के अंतर्गत तिलक राष्ट्रीय स्कूल के समीप रहने वाला एक युवक बड़ी संख्या में अपने संरक्षण में श्वान रखे हुए था। वह काफी दिनों से उनकी उचित देखभाल नहीं कर रहा था। मूक मवेशियों की देखभाल में की जा रही बेरहमी के कारण वह मरणासन्न हालात में पहुंच गए थे, जिसका एक वीडियो सोशल मीडिया में वायरल हुआ।

 

एनिमल क्राइम कंट्रोल ग्रुप की मीना भारद्वाज एवं रजनी वर्मा ने बताया कि तिलक राष्ट्रीय स्कूल के समीप नितिन कुंडे नामक युवक डॉग लेकर के देखभाल कर रहा था। डॉग ऑनर के घर में परेशानी होने, परिवार के सदस्य बीमार होने व निर्माण कार्य आदि चलने के कारण इनके द्वारा 200 प्रतिदिन के हिसाब से खर्च देकर इन श्वानों को सुरक्षित रखने के लिए दिया था, लेकिन नितिन द्वारा उनकी उचित देखभाल नहीं की जा रही थी, जिसके कारण उनकी हालत खराब हो गई थी। टीम ने बुधवार को रेस्क्यू करते हुए सात डॉग को लेकर कोतवाली थाना पहुंची। इसमें तीन डाबरमैन, एक लेब्रा डॉग, एक रॉड विलर, एक पवेलियन, एक गोल्डन रेटिवर शामिल है। समस्या बताते हुए कुंडे से श्वान मुक्त कराए और लिटिल स्टार फाउंडेशन में देखभाल के लिए भेजा गया। यहां से फिर एक माह तक उनकी देखभाल के बाद अडॉप्ट करने की प्रक्रिया अपनाई जाएगी।

मेनिका गांधी से तक पहुंचा मामला

मीना भारद्वाज एवं फाउंडर दृष्टि विजन सोसाइटी एवं शहर महिला कांग्रेस अध्यक्ष रजनी वर्मा ने बताया कि श्वानों की उचित देखभाल न करने का मामला एमपीएफ की अध्यक्ष मेनिका गांधी तक बात पहुंचा।

 

उन्होंने भी पुलिस से बात कर उचित कार्रवाई हुए उनको सुरक्षित करने के लिए बात कही। मीना भारद्वाज ने बताया कि पुलिस से भी मेनिका गांधी की बात कराई गई है जिसमें उन्होंने आवश्यक निर्देश दिए। उन्होंने शहर के भी आवारा श्वान की नसबंदी कराने व उनकी देखभाल के लिए नगर निगम द्वारा व्यवस्था कराई जाने की बात कही। श्वानों की उचित देखभाल न करने पर नितिन कुंडे व श्वानों के मालिकों पर कानूनी कार्रवाई करने की बात कही। हालांकि इस मामले में कोतवाली टीआइ आशीष शर्मा ने कहा की टीम श्वानों को लेकर पहुंची थी। उनको रेस्क्यू कराते हुए सुरक्षित स्थान पर रखवाया गया।

Yash Bharat

Editor With मीडिया के क्षेत्र में करीब 5 साल का अनुभव प्राप्त है। Yash Bharat न्यूज पेपर से करियर की शुरुआत की, जहां 1 साल कंटेंट राइटिंग और पेज डिजाइनिंग पर काम किया। यहां बिजनेस, ऑटो, नेशनल और इंटरटेनमेंट की खबरों पर काम कर रहे हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button