Uncategorized

लघुशंका के विवाद में हुई पत्थरबाजी, 8 थानों की पुलिस ने पाया काबू

मंगलवार की रात दोनों समुदाय के लोग आमने-सामने हुए और जमकर पथराव करने लगे। झगड़ा बढ़ाऔर गलियों में भी पथराव होने लगा। जिसके चलते राबिया और 12 वर्षीय तौफिक घायल हो गए। दोनों समुदायों ने न केवल एक-दूसरे के साथ मारपीट की बल्कि क्षेत्र में खड़ी नगर निगम की गाड़ी, डायल 100 और रहवासियों की सात कारों के कांच आदि भी फोड़ दिए। बिगड़ते हालातों पर काबू पाने के लिए तीन सीएसपी सहित पश्चिम क्षेत्र के आठ थानों का पुलिस बल यहां पहुंचा। उपद्रवियों पर काबू पाने के लिए पुलिस को लाठियां भी चलानी पड़ीं।

इंदौर। सदर बाजार थाना क्षेत्र में मंगलवार की रात दो पक्षों में जमकर विवाद हुआ। देखते ही देखते विवाद इतना बढ़ गया कि तीन सीएसपी सहित आठ थानों के बल को मोर्चा संभालना पड़ा।

असल में मंगलवार की रात यहां लघुशंका को लेकर दो पक्षों के बीच विवाद की शुरुआत हुई। विवाद गहरा गया और जमकर पत्थरबाजी होने लगी। जिसके चलते दो लोग घायल भी हो गए और नगर निगम की गाड़ी, डायल 100 और सात कारों के साथ तोड़फोड़ कर दी गई। घटना की शुरुआत रात करीब सवा 11 बजे हुई। जूना रिसाला निवासी राबिया बी पति अजीम ने सोमवार को थाना सदर बाजार में गोलू, अंकित और बाबा के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई थी। रिपोर्ट दर्ज कराने की वजह राबिया के घर के बाहर इनका लघुशंका करना था। जिसके बाद दोनों पक्षों में जमकर कहा सुनी हुई थी। सोमवार को इन तीनों को हिरासत में भी ले लिया गया था। मंगलवार को ये तीनों जमानत पर छूट गए और एक बार फिर मामला गर्मा गया।

मंगलवार की रात दोनों समुदाय के लोग आमने-सामने हुए और जमकर पथराव करने लगे। झगड़ा बढ़ाऔर गलियों में भी पथराव होने लगा। जिसके चलते राबिया और 12 वर्षीय तौफिक घायल हो गए। दोनों समुदायों ने न केवल एक-दूसरे के साथ मारपीट की बल्कि क्षेत्र में खड़ी नगर निगम की गाड़ी, डायल 100 और रहवासियों की सात कारों के कांच आदि भी फोड़ दिए। बिगड़ते हालातों पर काबू पाने के लिए तीन सीएसपी सहित पश्चिम क्षेत्र के आठ थानों का पुलिस बल यहां पहुंचा। उपद्रवियों पर काबू पाने के लिए पुलिस को लाठियां भी चलानी पड़ीं

अलग-अलग प्रकरण होंगे दर्ज

 

एएसपी प्रशांत चौबे के अनुसार घटना स्थल से आठ लोगों को गिरफ्तार कर लिया गया है। इसके अलावा क्षेत्र में उपद्रवियों की पहचान करने के लिए सीसीटीवी फुटेज भी तलाशे जा रहे हैं ताकि शहर की फिजां को बिगाड़ने वालों के खिलाफ प्रकरण दर्ज कर सख्त से सख्त कार्यवाही की जा सके। यही नहीं पत्थरबाजी करने, नगर निगम की गाड़ी, रहवासियों की गाड़ियां और डायल 100 तोड़ने वालों के खिलाफ अलग-अलग प्रकरण दर्ज किए जाएंगे। आरोपियों की तलाश में पुलिस ने देर रात पूछताछ भी शुरू कर दी।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button