जबलपुरमध्य प्रदेश

रीवा में मर्डर: शौच के लिए गई युवती को जलाकर मारा

परिजनों को अधजलि लाश मिली, अगले माह होने वाली थी शादी

रीवा, यशभारत। रीवा में एक लड़की की आधी जली लाश मिलने से सनसनी फैल गई.। लड़की की शादी अगल महीने होने वाली थी. मामले को लेकर गुस्साए परिजनों ने पुलिस को लाश उठाने नहीं दी और हत्या का आरोप लगा कर जांच करने को कहा। फोरेंसिक टीम भी हत्या की आशंका ही जता रही है।

जानकारी के मुताबिक, घटना चाकघाट थाना क्षेत्र के बघेडी गांव की है. परिजनों ने बताया कि प्रीति साकेत (22) पिता पन्ना लाल साकेत मंगलवार शाम 6 बजे घर से शौच के लिए बाहर निकली थी. लेकिन, वह शाम तक नहीं लौटी। घबराए परिजनों ने उसे बहुत फोन लगाए लेकिन फोन रिसीव नहीं हुआ। कुछ देर बाद परिजनों ने उसकी तलाश शुरू की।

परिजनों ने देखा – जल रही थी लड़की
परिजन ढूंढते-ढूंढते जब घर के पीछे की ओर गए, तो रास्ते में लड़की की चप्पल और मोबाइल मिला. कुछ दूर आगे जाने पर देखा कि एक जगह आग लगी हुई है. घरवाले जब वहां गए तो उनके होश उड़ गए. उन्होंने देखा कि लड़की जल रही है। उसका पैर बाहर निकला है. कुछ देर बाद आग की लपटें शांत हुई, तब तक उसकी मौत हो चुकी थी।

भड़क गए परिजन
घटना की सूचन मिलते ही डायल 100 और चाकघाट पुलिस मौके पर पहुंची. मंगलवार रात 8 बजे पुलिस ने मौका मुआयना कर शव उठाने की कोशिश की, तो परिजन भड़क गए. परिजन ने हत्या का आरोप लगाया और कहा कि वरिष्ठ अधिकारियों से बात किए बिना लाश नहीं उठाएंगे. रात 12 बजे तक हुए हंगामे के बाद चाकघाट थाना प्रभारी प्रवीण उपाध्याय ने एसपी राकेश सिंह और एएसपी विजय डाबर को सूचना दी. इसके बाद कुछ पुलिसकर्मियों को घटनास्थल पर ही रोक दिया।

हत्या की आशंका – एफएसएल टीम
इसके बाद टीम को घटना स्थल पर भेजा गया. सीनियर साइंटिस्ट आॅफिसर डॉ. आरपी शुक्ला के निर्देश में फिंगर प्रिंट एक्सपर्ट एसआई राम कुमार बरकड़े, एफएसएल एसआई जाम सिंह चौगड़ और कमलेन्द्र सिंह को घटना स्थल पर भेजा गया. फारेंसिक एक्सपर्ट जाम सिंह चौगड़ ने बताया, प्राथमिक जांच में ये हत्या नजर आ रही है. हालांकि पूरा शरीर जला है, जबकि पैर सुरक्षित बच गया है.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button