जबलपुरमध्य प्रदेश

मौत को चैलेंज नहीं दे पाया युवक: नशामुक्ति केंद्र में पिनायल पीकर मरना चाहा, एक माह बाद पानी की टंकी में डूबकर दे दी जान

यशभारत, जबलपुर। बजरंग गढ़ा में रहने वाले एक युवक ने पानी की टंकी में डूबकर आत्महत्या कर ली। युवक ने आत्महत्या के पहले अपने छोटे भाई सहित परिवार के सभी सदस्यों को बताते हुए कहा कि वह पानी की टंकी में डूबकर मरने जा रहा है। युवक की बात पर किसी को भरोसा नहीं हुआ परंतु घंटों बाद भी जब वह घर नहीं लौटा तो छोटे भाई ने पानी की टंकी में जाकर तो उसका शव पानी तैरता हुआ पाया गया। युवक ने एक माह पहले भी नशामुक्ति केंद्र में पिनायल पीकर आत्महत्या करने की कोशिश की थी।
इस संबंध में पुलिस ने बताया कि बजरंग कॉलोनी निवासी नीतेश सूर्यवंशी ने सूचना दी कि उसका भाई नीरज सूर्यवंशी ने पानी की टंकी में डूबकर आत्महत्या कर ली। पुलिस ने मौके पर पहुंचकर शव को पानी निकलवाते हुए मर्ग को जांच में लिया।

बार-बार मरने की कोशिश करता था
मृतक के भाई नीतेश सूर्यवंशी ने बताया मृतक की मानसिक स्थिति ठीक नहीं थी वह कई सालों से नशामुक्ति केंद्र में था। पिछले माह उसने वहां पर भी पिनायल पीकर खुदखुशी करनी चाही थी। नशा मुक्ति केंद्र से इस माह घर लेकर आए थे और यहां पर भी वह रोजाना मरने की बात करता था।

 

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button