बिज़नेस

मुकेश अंबानी का जोर अब ऑयल एंड पेट्रोकेमिकल पर, सऊदी अरामको के साथ बातचीत आगे बढ़ी

तेल रिफाइनिंग और पेट्रोरसायन इकाई में 20 प्रतिशत हिस्सेदारी बेच रही है रिलायंस

नई दिल्ली
एशिया और भारत के सबसे बड़े रईस मुकेश अंबानी (Mukesh Ambani) की रिलायंस इंडस्ट्रीज (Reliance Industries) ने तेल रिफाइनिंग और पेट्रोरसायन इकाई में 20 प्रतिशत हिस्सेदारी बिक्री के लिए सऊदी अरामको (Saudi Aramco) के साथ नकद और शेयर सौदे पर बातचीत की है। एक रिपोर्ट में यह दावा किया गया है। अंबानी ने अगस्त 2019 में तेल व रसायन कारोबार (ओ2सी) में 20 प्रतिशत हिस्सेदारी दुनिया की सबसे बड़ी तेल निर्यातक कंपनी को बेचे जाने के बारे में बातचीत की घोषणा की थी। इस कारोबार में गुजरात के जामनगर में दो तेल रिफाइनरी और पेट्रोरसायन संपत्ति शामिल हैं।

यह सौदा मार्च 2020 तक पूरा होना था लेकिन इसमें देरी हुई। हालांकि इसका कारण नहीं बताया गया। अखबार फाइनेंशियल टाइम्स ने सूत्रों के हवाले से रिपोर्ट दी है कि हाल के सप्ताह में दोनों पक्षों के बीच बातचीत शुरू हुई है। इसमें कहा गया है कि अरामको शुरू में हिस्सेदारी के लिए शेयर और बाद में कई साल में चरणबद्ध तरीके से नकद भुगतान पर विचार कर रही है। शेयर बनाम नकद का अनुपात अभी चर्चा का विषय बना हुआ है और शर्तों को अंतिम रूप दिया जाना बाकी है।

एक फीसदी हिस्सेदारी बेचेगी अरामको
इस बारे में रिलायंस इंस्ट्रीज को ई-मेल भेजा गया, लेकिन उनकी तरफ से कोई जवाब नहीं आया। सऊदी अरब के शहजादा मोहम्मद बिन सलमान ने मंगलवार को एक टेलीविजन इंटरव्यू में सऊदी अरब की राष्ट्रीय तेल कंपनी में अल्पांश हिस्सेदारी विदेशी निवेशक को बेचने का संकेत दिया था। उन्होंने कहा कि एक प्रतिशत हिस्सेदारी के अधिग्रहण को लेकर बातचीत हो रही है। उन्होंने सौदे के बारे में विस्तार से कोई जानकारी नहीं दी।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button