बिहारराज्य

मंत्री मुकेश सहनी ने कहा- मेरे आवास को बना दो आइसोलेशन सेंटर, 24 घंटे में करीब आठ हजार से ज्यादा नए केस

पटना
बिहार में कोरोना की दूसरी लहर जानलेवा होती जा रही है। राज्य में कोरोना की बढ़ती रफ्तार ने पिछले सारे रिकॉर्ड तोड़ दी है। बीते 24 घंटे में करीब आठ हजार से ज्यादा नए केस सामने आए हैं। वहीं 35 लोगों की जान चली गई । इसी बीच बिहार सरकार के एक मंत्री ने राज्य में पूर्ण बंदी की मांग की है। विकासशील इंसान पार्टी (वीआईपी) चीफ और बिहार सरकार के मंत्री मुकेश सहनी ने राज्य में लॉक़डाउन लगाने की वकालत की है। उन्होंने कहा कि कोरोना से स्थिति विस्फोटक होती जा रही है। ऐसे में पू्र्ण बंदी ही एक मात्र विकल्प है।

राज्यपाल के साथ हुई सर्वदलीय बैठक में मुकेश सहनी भी शामिल हुए थे। उन्होंने महाराष्ट्र में कोरोना से बिगड़े हालात का उदाहरण देते हुए कहा कि बिहार में भी संक्रमण का फैलाव तेजी से बढ़ रहा है। इसके लिए पूर्ण लॉकडाउन लगाना बेहद जरूरी है। साथ ही उन्होंने अपने सरकारी आवास को आइसोलेशन सेंटर में तब्दील करने की भी बात कही। मुकेश सहनी ने कहा कि पशुपालन विभाग के तहत आने वाले 1137 पशु चिकित्सक, 50 एंबुलेंस और पशु विज्ञान विश्वविद्यालय भवन का इस्तेमाल सरकार क्वारंटाइन सेंटर बनाने के लिए करे।

बता दें कि बिहार में कोरोना वायरस का प्रकोप तेजी से बढ़ता जा रहा है। हालात को देखते हुए मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने रविवार को जिले के सभी कलेक्टरों और एसपी के साथ वीडियो क्रांन्फ्रेंसिंग के जरिए बैठक ली। मुख्यमंत्री ने जिले में कोरोना के बारे में विस्तार से बातचीत की। साथ ही इसे रोकने के लिए जिलाधिकारियों से सुझाव मांगे।

बता दें कि मुकेश सहनी से पहले सर्वदलीय बैठक में राज्य के मुख्य विपक्षी दल आरजेडी ने लॉकडाउन लगाने की मांग की थी। तेजस्वी यादव ने बैठक में कहा था कि राज्य में वीकेंड लॉकडाउन से स्थिति नियंत्रित नहीं होने वाली है, इसके लिए पूर्ण बंदी ही उचित समाधान है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button