कटनीजबलपुरमध्य प्रदेश

ब्रेकिंग : संडरसन माइंस में असुरक्षित तरीके से रखे थे डेटोनेटर 

कटनी, यशभारत।

Thank you for reading this post, don't forget to subscribe!

स्लीमनाबाद के साथ ग्राम पौड़ी स्थित एसएन संडरसन खदान में भंडारित किए गए विस्फोटक पदार्थों के रखरखाव में बड़ी लापरवाही सामने आई है। यहां 50 से अधिक डेटोनेटर, फ्यूज सेफ्टी, वायरिंग व नाइट्रिक पाउडर को एक ही स्थान पर भंडारित करते हुए रखा गया था। असुरक्षित कक्ष व असुरक्षित तरीके से रखे गए इस विस्फोटक में थोड़ी लापरवाही बड़े हादसे का कारण बन सकती थी। गुरुवार की दोपहर जब पुलिस व प्रशासन की टीम यहां पहुंची तो लापरवाही देख खदान प्रबंधन को जमकर फटकार लगाई। मौके पर ही असुरक्षित मैगजीन भंडारण कक्ष को सील किया गया।

IMG 20240209 125212

जानकारी के अनुसार स्लीमनाबाद में करीब 25 खदानें संचालित हो रही है, जहां से खनिज निकाला जाता है। इनमें 5 खदान संचालकों के पास ब्लास्टिंग करने की अनुमति है। इन 5 में से दो माइंस जलभराव के कारण बंद पड़ी हुई है तो 3 संचालित है। इन खदानों में विस्फोटक पदार्थों के सुरक्षा उपायों की जांच के लिए गुरुवार दोपहर एसडीओपी स्लीमनाबाद अखिलेश गौर एवं एसडीएम राकेश चौरसिया के नेतृत्व में स्लीमनाबाद थाना प्रभारी अखलेश दाहिया और तहसीलदार स्लीमनाबाद ने टीम के साथ ग्राम पौड़ी स्थित संडरसन खदान में दबिश दी। विस्फोटक पदार्थों के सुरक्षा उपायों और स्थान को चेक किया गया तो विस्फोटक पदार्थ सुरक्षित रूप से भंडारित नहीं किया गया था और इस सुरक्षा मानकों का पालन भी नहीं किया जा रहा था। जिस पर अफसरों ने मैगजीन कक्ष को विधिवत सीलबंद कर माइंस प्रबंधन को नोटिस जारी किया।

पुलिस अधिकारियों ने बताया कि माइंस में ब्लास्ट के लिए यहां भारी मात्रा में विस्फोटक पदार्थ रखा गया था। जिस कक्ष में यह पदार्थ था, वह क्षतिग्रस्त था। छत जर्जर थी, जिससे हवा बारिश यहां पहुंच सकती थी। छत को पॉलीथिन से ढंककर रखा गया है। विस्फोटक पदार्थ को अलग-अलग सुरक्षित रखा जाना था, लेकिन यहां सब एक साथ रखा गया था। सुरक्षा के इंतजाम भी नहीं थे। विस्फोटक पदार्थ गलत हाथों में पडऩे पर इसके दुरुपयोग की आशंका से भी इंकार नहीं किया जा सकता। नियमानुसार सुरक्षा मानकों का पालन नहीं किए जाने पर मैगजीन कक्ष को विधिवत सीलबंद किया जाकर नोटिस दिया गया है एवं वैधानिक कार्यवाही की जा रही है।

सुभाष चौक में चल रहा था गैस रिफलिंग का अवैध कारोबार

जिला मुख्यालय में एसडीएम प्रदीप मिश्रा, तहसीलदार, सीएसपी ख्याति मिश्रा व कोतवाली टीआई आशीष शर्मा ने देर शाम सुभाष चौक में संचालित गैस रिफलिंग के अवैध कारोबार पर दबिश दी। यहां सरस बर्तन भंडार में भारी मात्रा में छोटे गैस सिलेंडर रखे हुए थे। अफसरों ने बताया कि 30 से अधिक नई व पुरानी गैस टंकी जब्त की गई है, जिसमें 10 भरी हुई मिली है। दुकानदार बिना अनुमति इसके क्रय-विक्रय का कार्य कर रहा था, जिस पर कार्रवाई की गई है। इस अवसर पर पटवारी राजकुमार गौतम, तुलाराम वर्मा सहित अन्य अधिकारी मौजूद रहे।

माचिस भंडारण की जांच, मांगे दस्तावेज

घंटाघर क्षेत्र में अफसरों ने माचिस के गोदाम पर भी जांच की। जांच के दौरान अनुमति संबंधी दस्तावेज मांगे तो भंडारणकर्ता ने कहा कि माचिस में पोटेशियम की मात्रा कम होती है, जिसके लिए अनुमति की आवश्यकता नहीं है। जिस पर अफसरों ने गृह मंत्रालय के आदेश सहित दस्तावेज तलब किए।

दुकान व मकान में पटाखा की जांच

इसी कड़ी में थाना प्रभारी बहोरीबंद एवं तहसीलदार गौरव पांडे के साथ संयुक्त जांच कर क्षेत्राधिकार के अस्थाई पटाका लाइसेंसधारी व्यापारियों के दुकान व मकान में तलाश की गई।

Rate this post

Related Articles

Back to top button