जबलपुरमध्य प्रदेशराज्य

प्रकृति सबको स्वतंत्र रूप से सब कुछ देती है वो ही अपेक्षा उसकी हम सभी से हैं- लेफ्टिनेंट कर्नल लोकेश देवा

एनसीसी कैडेट ने विश्व पर्यावरण दिवस पौधरोपण एवं पेटिंग प्रतियोगिता के माध्यम से मनाया

ग्वालियर l मुख्यालय एनसीसी के निर्देश पर 8 मप्र बटालियन एनसीसी के कमान अधिकारी कर्नल आर एस लेहल सेना मेडल के मार्गदर्शन में एवं लेफ्टिनेंट कर्नल लोकेश देवा के नेतृत्व में राइडिंग ग्रुप अल्टीमेट वारियर राइडर्स समाज सेवी यूथ पावर केयर सेवा समिति के सहयोग से बड़े जोश उत्साह के साथ एनसीसी ने विश्व पर्यावरण दिवस “भूमि बहाली, मरुस्थलीकरण और सूखा सहनशीलता” और हमारी भूमि…हमारा भविष्य नारा 2024 थीम के तहत मनाया। एनसीसी 8 मप्र बटालियन ने विश्व पर्यावरण दिवस पर विभिन्न गतिविधियों की एक श्रृंखला का आयोजन कैडेट्स के साथ किया। इन गतिविधियों के संचालन का मुख्य उद्देश्य पर्यावरण की रक्षा और सतत पद्धतियों को बढ़ावा देने के लिए वैश्विक जागरूकता से प्रेरित करना। कमान अधिकारी कर्नल आरएस लेहल सेना मेडल,लेफ्टिनेंट कर्नल लोकेश देवा,लेफ्टिनेंट सारांश निगम,एफओ धर्मपाल सिंह बघेल, शबनम एस बानो ,पुनीत शर्मा,आदर्श कुशवाह, सुरेन्द्र कुशवाह अन्य स्टाफ एवं कैडेट के साथ पौधरोपण किया।

भूमि बहाली, मरुस्थलीकरण और सूखा सहनशीलता विश्व पर्यावरण दिवस के इस थीम के महत्व का संदेश फैलाकर शहर के बीच जागरूकता पैदा करना है। इस श्रृंखला में आयोजित किए जाने वाले विभिन्न कार्यक्रम हैं पोस्टर मेकिंग प्रतियोगिता, संगोष्ठी, निबंध लेखन प्रतियोगिता किये गए। यह कार्यक्रम लोगों को पर्यावरण की रक्षा के लिए स्थायी जीवन शैली प्रथाओं को अपनाने के लिए प्रोत्साहित करेगी। इस कार्यक्रम में 200 एनसीसी कैडेटों ने सक्रिय रूप से भाग लिया और ‘बुरे प्रभाव’ विषय पर जानकारीपूर्ण पोस्टर बनाए। इस पोस्टर निर्माण अभियान के माध्यम से, कैडेटों ने एनसीसी मुख्यालय के परिसर में अपने पोस्टर प्रदर्शित करके प्लास्टिक प्रदूषण से पर्यावरण को होने वाले खतरों के बारे में जन जागरूकता पैदा की। पोस्टर मेकिंग ,स्लोगन प्रतियोगिता में उत्कृष्ट पेटिंग बनाने वाले कैडेट रिया तोमर,शिवानी रजक,तान्या कुशवाह,सोहिल खान,कृष्णा श्रीवास,राज प्रताप सिंह को कमान अधिकारी ने पुरुस्कार दिए इस कार्यक्रम अभियान का संचालन टीओ गजेन्द्र जैन द्वारा किया गया।

इसी क्रम में प्रशासनिक अधिकारी लेफ्टिनेंट कर्नल लोकेश देवा ने कैडेट को संबोधित करते हुए बंजर भूमि को हरा भरा बनाने और पुनर्वास की आवश्यकता पर जोर दिया जाना चाइये और पुनर्बहाली, सूखा और मरुस्थलीकरण को रोकना वनरोपण और वनरोपण से किया जा सकता है। आगे कहा पृथ्वी एक ऐसा ग्रह है जहाँ जीवन संभव हैं पृथ्वी एक ही हैं और हम सब की हैं….इसकी रक्षा करना हमारा कर्तव्य हैं यहाँ वातावरण अनुकूल और प्रकृति सुगम और मनोरम हैं मेरे मानना हैं प्रकृति से बड़ा कोई भी कलाकार इस दुनिया में नहीं हैं यह हमारा भविष्य हैं। जिस तरह प्रकृति सबको स्वतंत्र रूप से सब कुछ देती है वो ही अपेक्षा उसकी हम सभी से हैं। इस संदेश को समझना होगा,हमारी भूमि, हमारा भविष्य” के नारे के तहत भूमि बहाली, मरुस्थलीकरण से निपटने और सूखे से निपटने की क्षमता बढ़ाने पर ध्यान केंद्रित कर रहा है।

प्रशिक्षण अधिकारी ग्रुप मुख्यालय एनसीसी लेफ्टिनेंट कर्नल एन्थोनी जॉय ने कहा इस विश्व पर्यावरण दिवस का नारा, “हमारी भूमि…. हमारा भविष्य,” गहराई से गूंजता है। यह विषय केवल चुनौतियों को स्वीकार करने के बारे में नहीं है; यह हमारी कीमती भूमि की रक्षा करने और आने वाली पीढ़ियों के लिए एक स्थायी भविष्य सुरक्षित करने के लिए एक वैश्विक समुदाय के रूप में एकजुट होने के बारे में है।

इसी क्रम में टी ओ गजेंद्र जैन हमारी भूमि हमारे भविष्य के नारे के साथ सभी अधिकारी एवं कैडेट्स के साथ पर्यावरण की रक्षा के लिए शपथ दिलाई गई।

डिप्टी ग्रुप कमांडर कर्नल नवदीप कादयान ने इस कार्यक्रम में बड़े उत्साह के साथ भाग लेने एनसीसी कैडेटों की सराहना की। इस दौरान उपस्थित, सुरेंद्र कुशवाह,टीओ प्रिंशु पाठक,सूबे निरंजन कुमार,सूबेदार संतोष सिंह,सूबेदार पीके सेम,सूबेदार रामराज,हवलदार सुखचैन,सक्षम सक्सेना ,अभिमन्यु, राहुल तलरेजा,अन्य स्टाफ मौजूद रहा।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button