दिल्ली/नोएडाराज्य

पाकिस्तान और चीन को सेना से जुड़ी जानकारी देता था शख्स, स्पेशल सेल ने किया गिरफ्तार

नई दिल्ली
दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने खुफिया इनपुट मिलने के बाद देश की सुरक्षा से जुड़ी जानकारी पाकिस्तान और चीन को पहुंचाने वाले एक शख्स को गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार आरोपी शख्स की पहचान 35 साल के हरपाल सिंह के तौर पर हुई है। वह मूलरूप से पंजाब के तरणतारण का रहने वाला है। हरपाल सिंह पाकिस्तानी और चीनी खुफिया एजेंसियों को सेना के बेस कैंप, उनके मूवमेंट, आर्मी और बीएसएफ पोस्ट व बंकरों समेत अन्य खुफिया जानकारी मोटी रकम लेकर मुहैया करता था।

हवाला के जरिए मिलती थी मोटी रकम
पुलिस के अधिकारी ने घटना की जानकारी देते हुए बताया कि आरोपी हरपाल सिंह को पाकिस्तान से हवाला के जरिए देश की खुफिया जानकारी देने के बदले काफी मोटी रकम दी जाती थी। पुलिस ने आरोपी के पास से सेना की जानकारी से जुड़े गोपनीय दस्तावेज, एक मोबाइल फोन, सिमकार्ड और बस की यात्रा के दो टिकट बरामद किए हैं। आरोपी के मोबाइल को खंगालने पर पता चला कि पाकिस्तान के लाहौर में मौजूद उसका आका है, जिसका नाम जसपाल है। आरोपी जसपाल से सोशल मीडिया के जरिए संपर्क करता था। जांच में पता चला कि जसपाल ने हरपाल से सोशल मीडिया के जरिए शुरु में संपर्क किया था और उसका कई तरह से ब्रेन वॉश कर खुफिया जानकारी देने के बदले मोटी रकम देने का लालच देकर अपने पाले में कर लिया।
 
कई बार दी भारतीय सेना के मूवमेंट की जानकारी
पुलिस अधिकारी ने बताया कि पिछले कुछ दिनों को स्पेशल सेल को एक गुप्त सूचना मिली रही थी, जिसमें पता चला कि कुछ शातिर देश की खुफिया जानकारी पड़ोसी देश की खुफिया एजेंसियों को दे रहे हैं। जानकारी जुटाने पर पता चला कि उक्त हरपाल सिंह है, जो हवाला के जरिए मोटी रकम लेकर देश की आर्मी और अन्य खुफिया जानकारी पाकिस्तान पहुंचा रहा है।  आरोपी भारत-पाक बॉर्डर के पास एक फर्म में मशीन ऑपरेटर का काम करता था और उसके संबंध पाकिस्तान की खुफिया एजेंसियों से है। टेक्नीकल जानकारी जुटाने पर पता चला कि आरोपी हरपाल हवाला के जरिए वहां से मोटी रकम ले रहा है। जानकारी जुटाने के बाद पुलिस की टीम ने छानबीन शुरू की।  स्पेशल सेल की टीम ने पुणे की मिलिट्री इंटेलिजेंस के साथ जांच आगे बढ़ाई तो पता चला कि आरोपी सेना और बीएसएफ के मूवमेंट, बंकर, बेस की काफी जानकारी पाकिस्तान तक पहुंचा रहा है। जिसके बाद पुलिस टीम ने आरोपी को ट्रेस किया और उसे दिल्ली में ट्रैप लगाकर दबोच लिया।

वीडियो बनाकर भेजता था पाकिस्तान
पुलिस सूत्रों ने बताया कि आरोपी की गिरफ्तारी के बाद आगे की जांच में पता चला कि वह कई बार आर्मी व बीएसएफ के बंकरों, बेस व अन्य जगहों की वीडियो बनाकर सोशल मीडिया के जरिए पाकिस्तान भेजता था। पूछताछ के दौरान आरोपी ने बताया‌ कि पिछले करीब छह-साल माह से वह सोशल मीडिया के जरिए पाकिस्तान खुफिया एजेंसी के एजेंट जसपाल से मिला। उसने कौम का वास्ता देकर उसे जासूसी करने के लिए राजी किया।  चूंकि हरपाल भारत-पा‌क के बॉर्डर पर ही पैदा हुआ था। इसलिए उसे सेना और उससे जुड़ी कई अहम जानकारियां होती थी। जिसे वह लगातार पाकिस्तान के अपने आका को सोशल मीडिया के जरिए भेजता रहता था। बदले में उसे हवाला के जरिए मोटी रकम मिलती थी। आरोपी ने बताया कि ओमान की यात्रा के दौरान उसकी मुलाकात जसपाल से हुई थी। फिलहाल पुलिस आरोपी को रिमांड पर लेकर पूछताछ कर रही है।

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button