जबलपुर

नेशनल अस्पताल से 65 हजार के मोबाइल चोरी: कोविड मरीज को चोरों ने निशाना बनाया

पुलिस ने सीसीटीवी फुटेज मांगे, जल्द होगा खुलासा

यशभारत संवाददाता, जबलपुर। जिंदगी और मौत के बीच अपना इलाज करा रहे हैं मरीजों का सामान भी अब अस्पतालों से चोरी होने लगा है। ऐसी एक घटना नेशनल अस्पताल में एक मरीज के साथ हुई है। मरीज के दो मोबाइल 65 हजार कीमती पर चोरों ने हाथ साफ कर दिया।
लॉर्डगंज थाना के एसआई अनिल मिश्रा ने बताया कि ये घटना शहर के गोलबाजार स्थित नेशनल हॉस्पिटल की है। अस्पताल के जनरल वार्ड 29 में भर्ती अवंति विहार कॉलोनी रामपुर निवासी अमरेश प्रसाद के दो मोबाइल चोरी हो गए। इसकी रिपोर्ट उनके बेटे हर्षित श्रीवास्तव ने थाने में दर्ज कराई है। चोरी गए दोनों मोबाइल की कीमत 65 हजार रुपए है। वार्ड में डॉक्टर व स्टाफ के अलावा किसी का आना-जाना नहीं होता है।

पुलिस को हॉस्पिटल स्टाफ पर शक
चोरी की रिपोर्ट दर्ज होने के बाद पुलिस ने मामला जांच में लिया है। पुलिस सूत्रों की मानें तो पहला शक अस्पताल स्टाफ पर जा रहा है। ऐसा इसलिए क्योंकि इस वार्ड तें डॉक्टर व अस्पताल स्टाफ के अलावा कोई नहीं जा सकता। दावा है कि जल्द ही चोर को पकड़ लिया जाएगा।

कोविड मरीज भी सुरक्षित नहीं
चोरी की इस घटना से अंदाजा लगाया जा सकता है कोविड पेशेंट्स का क्या हाल हो रहा होगा। जब प्राइवेट अस्पतालों में यह स्थिति है, तो जरा सोचिए कि सराकारी अस्पतालों में क्या मंजर होगा।

शास्त्री नगर में भी चोरी
तिलवारा क्षेत्र के न्यूशास्त्रीनगर में भी चोरी की घटना सामने आई है। यहां निमार्णाधीन मकान में घुसकर चोरों ने पाइप काटा और महंगा सबमर्सिबल पंप ही चुरा ले गए। रॉयल सिटी तिलवारा निवासी बहादुर लाल पनगरहा ने तिलवारा थाने में चोरी का मामला दर्ज कराया। जीसीएफ से रिटायर्ड बहादुर लाल पनगरहा ने पुलिस को बताया कि मकान में लेंटर डल चुका है। कमरे के अंदर बोर कराया है। इसी से मकान की सिंचाई करता था। मंगलवार को पंप से पानी नहीं निकला। जब जाकर देखा तो पंप ही गायब था।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button