जबलपुरदेशमध्य प्रदेशराजनीतिकराज्य

नीतीश बोले- 7 पार्टियों के 164 विधायक हमारे साथ:तेजस्वी ने कहा- भाजपा जिसके साथ, उसे ही खत्म करती है; पंजाब-महाराष्ट्र इसकी नजीर

बिहार में BJP और JDU का गठबंधन टूटने के बाद नई सरकार बनने का रास्ता साफ हो चुका है। मंगलवार की शाम को नीतीश कुमार ने राज्यपाल फागू चौहान को 164 विधायकों के समर्थन की चिट्ठी सौंपी। इस मौके पर तेजस्वी यादव भी उनके साथ राजभवन में मौजूद थे। सरकार बनाने का दावा पेश करने के बाद नीतीश और तेजस्वी ने राजभवन में ही प्रेस कॉन्फ्रेंस की।

नीतीश कुमार ने कहा कि उन्होंने राज्यपाल को 7 पार्टियों के 164 विधायकों के समर्थन का पत्र दिया है। अब राज्यपाल के ऊपर है कि वे सरकार बनाने का न्योता कब देते हैं। इसके बाद तेजस्वी बोले और भाजपा पर खूब बरसे। तेजस्वी ने कहा- भाजपा का कोई गठबंधन सहयोगी नहीं है, इतिहास बताता है कि भाजपा उन दलों को नष्ट कर देती है जिनके साथ वह गठबंधन करती है। हमने देखा कि पंजाब और महाराष्ट्र में क्या हुआ।

पहली बार 160 विधायकों के समर्थन की चिट्ठी दी थी
CM नीतीश कुमार ने मंगलवार शाम 4 बजे राज्यपाल फागू चौहान को अपना इस्तीफा सौंपा था। उस समय नीतीश ने 160 विधायकों के समर्थन की बात कहते हुए सरकार बनाने का दावा पेश किया था। इसके बाद वे राबड़ी देवी के आवास पहुंचे, जहां उन्हें महागठबंधन का नेता चुना गया। यहां जीतन राम मांझी की पार्टी HAM भी नीतीश के साथ आ गई। उसके पास 4 विधायक हैं। इसके बाद नीतीश और तेजस्वी एक बार फिर राज्यपाल से मिले।

भाजपा कोर ग्रुप ने इमरजेंसी मीटिंग बुलाई
सरकार बनाने का दावा पेश करने के बाद शाम को महागठबंधन के नेता प्रेस कॉन्फ्रेंस कर सकते हैं। इधर, बिहार के सियासी संकट के मद्देनजर भाजपा ने मंगलवार शाम को ही कोर ग्रुप की इमरजेंसी मीटिंग बुलाई है। इसमें शामिल होने के लिए सुशील मोदी, रविशंकर प्रसाद और शहनवाज हुसैन मंगलवार शाम को पटना पहुंचे। यहां सियासी घमासान के बारे में उन्होंने कुछ भी कहने से इनकार कर दिया।

भाजपा-जदयू का 21 महीने पुराना गठबंधन टूटा
नीतीश के इस कदम के बाद भाजपा और जदयू का 2020 में बना गठबंधन टूट गया है। इस्तीफा सौंपने के बाद नीतीश ने राजभवन में कहा था कि पार्टी के विधायकों और सांसदों ने एक स्वर में NDA से गठबंधन तोड़ने की बात कही है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button