बिहारराज्य

नहीं  थम रहा कोरोना का कहर, पटना में 11 समेत राज्य में 51 की मौत

पटना 
कोरोना से शनिवार को बिहार में 51 लोगों की मौत हो गयी। मरने वालों 11 पटना में जबकि 40 अन्य जिलों के हैं। जिलों के कई मरीजों ने पटना में इलाज के दौरान अंतिम सांस ली। सबसे अधिक सारण में कोरोना ने कहर बरपाया और सात लोग मौत की नींद सो गए। सात में से तीन लोगों की मौत सारण में ही हुई जबकि चार की पटना में। बेगूसराय दो लोगों ने दम तोड़ दिया।  दूसरी ओर सासाराम में भी दो लोगों की मौत हो गई। जहानाबाद में दो लोग मौत की चपेट में आ गए। दूसरी ओर, गोपालगंज के कटेया के एक अधेड़ की पटना में इलाज के दौरान मौत हो गई। बक्सर के भी एक युवा शिक्षक की मौत आईजीआईएमएस पटना में हो गई। नालंदा में से एक की मौत नालंदा में तो दूसरे नूरसराय बीडीओ की पटना में उनके आवास में ही। गया में भी पांच लोग मौत की नींद सो गए। औरंगाबाद में दो लोग कोरोना की चपेट में आ गए।  

शनिवार को उत्तर बिहार में कोरोना से नौ लोगों की मौत हो कई। सर्वाधिक सात लोगों की जान मुजफ्फरपुर में गई। इनमें दो की मौत शहर के एक निजी अस्पताल में हुई। जिला परिषद के एक अभियंता की मौत एसकेएमसीएच परिसर में एम्बुलेंस में हो गई। एक व्यक्ति की जान एसकेएमसीएच के कोरोना वार्ड में हुई। एसकेएमसीएच के एक पीजी स्टूडेंट की मौत पटना के आईजीआईएमएस में हो गई। बेतिया मेडिकल कॉलेज में इलाज के दौरान दो की जान चली गई। दो की मौत दरभंगा मेडिकल कॉलेज अस्पताल में हुई। एक की मौत मधुबनी में हो गयी।  भागलपुर में संक्रमण से सात लोगों की मौत हो गयी। लखीसराय में दो की (एक की गोरखपुर में) व बांका औेर मुगेर में एक-एक व्यक्ति मौत हुई।  

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button