जबलपुरमध्य प्रदेश

दोस्ती का कत्ल : दोस्त के कहने पर नाबालिग का अपहरण कर गुजरात पहुंचाया : मामला दर्ज होते ही लगा ली फांसी- …देखे.. वीडियो..

 

 

जबलपुर, यशभारत। काम की तलाश में भटकते हुए दोस्त के साथ गुजरात में नौकरी की और परिवारजनों को सहयोग करने लगा। लेकिन बाद में दोस्त ने कहा कि खमरिया में उसकी पे्रमिका है…कैसे भी करके उसे गुजरात ले आओ, बाकी वह सम्हाल लेगा। युवक दोस्ती के कर्ज के आगे मजबूर और लाचार था…जिसके बाद उसने योजना बनाकर खमरिया में नाबालिग का अपहरण किया और बहला-फुसलाकर नाबालिग को गुजरात ले गया, जहां उसने अपने दोस्त को उसकी प्रेमिका सौंप दी। लेकिन नाबालिग का अपहरण होते ही क्षेत्र में हड़कंप मच गया। परिजनों ने मामले की थाने में शिकायत की। जिसके बाद आरोपियों की तलाश शुरु हुई। जिसके बाद युवक के परिनजों को भी यह पता चल गया कि उसने ही नाबालिग का अपहरण किया है। जिसकी खबर परिवारजनों ने युवक को दी। युवक डर गया और जब वह जबलपुर लौटा तो चौकीदार भाई ने उसे सम्हाला और समझाया कि पुलिस को सबकुछ बता दो, वह बच जाएगा। लेकिन युवक तनाव में आ गया और सुसाइड नोट में सबकुछ लिखकर फांसी लगा ली। पूरा मामला अधारताल थाना क्षेत्र का है। जहां युवक विवेक दुबे ने 27 जुलाई 2021 को फांसी लगा ली थी। मर्ग जांच के बाद पुलिस ने आरोपी दोस्त संजय कुछवाहा के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है।

अधारताल पुलिस ने पूरे मामले की जानकारी देते हुए बताया कि विवेक दुबे उम्र 20 साल गुजरात में अपने दोस्त संजय कुछवाहा के साथ नौकरी करता था। जबलपुर में कुछ समय पहले ही खमरिया की एक नाबालिग से संजय की मुलाकात हुई और संजय और नाबालिग की फोन पर बातें होने लगी। जिसके बाद संजय कुछवाहा ने अपने प्रेम को पाने के लिए विवेक दुबे का इस्तेमाल किया।

सुसाइड नोट में लिखा- मेरी मौत का कारण संजय हैं…

पुलिस ने बताया कि विवेक दुबे 20 साल पिता पुरुशोत्तम दुबे निवासी संजय नगर, ने सनिसिटी में फांसी लगा ली थी। जांच के दौरान एक सुसाइड नोट मिला। जिसमें विवेक ने लिखा कि मेरी मौत का कारण संजय कुछवाहा निवासी संजय नगर है। उसके कहने पर ही उसने खमरिया से नाबालिग का अपहरण कर गुजरात पहुंचाया था और नाबालिग को उसके सुपुर्द कर दिया।

मेरा नाबालिग से कोई नाता नहीं….

पुलिस ने बताया कि मृतक विवेक दुबे ने अपने सुसाइड नोट में लिखा है कि उसका और नाबालिग का कोई नाता नहीं है। लेकिन पुलिस उसे खोज रही है। जबकि उसकी कोई गलती नहीं है….। परिवारजन उसे माफ कर देना।

जांच के बाद आरोपी पर एफआईआर दर्ज

पुलिस ने बताया कि मर्ग जांच के बाद मृतक के भाई के कथन और बरामद हुए सुसाइड नोट के आधार पर आरोपी दोस्त संजय कुशवाहा पर मामला दर्ज कर लिया गया है।

नाबालिग और आरोपी है फरार

पुलिस ने बताया कि मामला दर्ज होने के बाद आरोपी की सरगर्मी से तलाश जारी है। बताया जा रहा है कि आरोपी नाबालिग प्रेमिका के साथ गुजरात में रह रहा है। जिसे जल्द दबोच लिया जाएगा।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button