जबलपुरमध्य प्रदेश

दुर्गोत्सव महापर्व : शाम 6 बजे से सुबह 5 बजे तक लगाई गई चाक-चौबंद व्यवस्था

एसपी सिद्धार्थ बहुगुणा ने भ्रमण कर लिया जायजा, दिए आवश्यक दिशा-निर्देश

जबलपुर, यशभारत। संस्कारधानी में दुर्गा उत्सव पर्व धूमधाम एवं वृहद स्तर पर मनाया जाता है, जिसकी ख्याति पूरे प्रदेश में है। सप्तमी, अष्टमी एवं नवमीं को शाम से ही श्रृद्धालु शहर में जगह जगह सार्वजनिक स्थानों पर स्थापित दुर्गा जी की प्रतिमाओं के दर्शन हेतु निकल पड़ते हैं, जिसे ध्यान में रखते हुये एसपी सिद्धार्थ बहुगुणा के मार्गदर्शन में चाक-चौबंद व्यवस्था शाम 6 बजे से प्रात: 5 बजे तक लगाई गई है। इसके साथ ही बड़ी खेरमाई , बूढ़ी खेरमाई , त्रिपुर सुन्दरी मंदिर भेड़ाघाट, शारदा मंदिर बरेला आदि मंदिरों में रात्रि 3 बजे से ही जल चढ़ाने एवं दर्शन करने जन आस्था का सैलाब उमड़ पड़ता है, जिसके चलते अगल से व्यवस्था लगाई गई है।
महापर्व में 11.30 बजे से देर रात 2 बजे तक एसपी सिद्धार्थ बहुगुणा ने थाना ओमती, लार्डगंज, कोतवाली, हनुमानताल, गोहलपुर, केण्ट, बड़ी खेरमाई, बूढ़ी खेरमाई, सुनरहाई, नुनरहाई में लगाई गई चाक चौबंद व्यवस्था का भ्रमण कर, जायजा लेते हुये मौके पर उपस्थित अधिकारियों एव कर्मचारियों की हौसला अफजाई करते हुये आवश्यक दिशा निर्देश भी दिये। भ्रमण के दौरान अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक गोपाल खांडेल एवं संबंधित थाना प्रभारी तथा नगर पुलिस अधीक्षक मौजूद रहे।

उल्लेखनीय है कि पूर्व में ही सभी थाना प्रभारियों को आदेशित किया गया है कि सभी पंडालों में रेत एवं पानी से भरी हुई बाल्टी, अग्निशमन यंत्र, अनिवार्य रूप से रखवाए जाएं तथा बड़े पंडालों में जहां श्रद्धालुओं की अधिक भीड़ होती है सीसीटीवी कैमरे लगवाए जाएं एवं कम से कम 2 समिति के सदस्य हमेशा मौजूद रहे तथा सभी पंडालों में एक रजिस्टर भी रखा जावे, रखे गए रजिस्टर में जिसके द्वारा भी चेक किया जाता है वह समय का उल्लेख करते हुए अपने हस्ताक्षर करेगा, पंडालों में दिए गए निदेर्शोंं के तहत व्यवस्था है कि नहीं को भी आपके द्वारा चेक किया गया। शहर एवं देहात में 1576 दुर्गा जी एवं महाकाली जी की प्रतिमाएं सार्वजनिक स्थानों पर रखी गई है।

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button