बिहारराज्य

दिक्कत में बाहर फंसे बिहार के लोग जल्द लौट आएं: सीएम नीतीश की अपील

पटना 
मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने राज्य के लोगों से अपील की है कि जो भी बाहर दिक्कत में हैं, वह जल्द बिहार लौट आएं। यहां उन्हें हर तरह का सहयोग राज्य सरकार देगी। उनके रोजगार के प्रबंधन किये जा रहे हैं। साथ ही यहां पर उनकी कोरोना जांच होगी। संक्रमित होंगे तो उनके इलाज का पूरा प्रबंध किया गया है। मुख्यमंत्री रविवार को सीएम सचिवालय में प्रेस कॉन्फ्रेंस में बोल रहे थे। कहा कि अनुमंडल स्तर पर क्वारंटाइन सेंटर बनाये जा रहे हैं, जहां पर जरूरत के अनुसार बाहर से आने वालों को रखा जाएगा। यहां पर हर इंतजाम रहेंगे। स्वस्थ्य होने के बाद वे अपने घर जा सकेंगे। 

 मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि राज्य के हर परिवार को सरकार मुफ्त में मास्क उपलब्ध कराएगी। पंचायती राज विभाग ग्रामीण क्षेत्रों में तथा शहर में नगर एवं आवास विभाग विभाग के द्वारा मास्क का वितरण किया जाएगा। उन्होंने कहा कि पिछले साल जितने मास्क दिये गये थे, उससे अधिक इस बार दिये जाएंगे। मालूम हो कि पिछले साल ग्रामीण क्षेत्रों में हर परिवार को चार-चार मास्क दिये गये थे। 

मुख्यमंत्री ने कहा कि जो भी मरीज होम आइसोलेशन में हैं, उनसे स्वास्थ्य कर्मी निरंतर संपर्क में रहेंगे। ताकि उनके इलाज में कोई दिक्कत नहीं हो। उन्हें जो भी आवश्यकता होगी, समय पर उपलब्ध करा दिया जाएगा। लोगों को जागरूक करने के लिए निरंतर प्रचार-प्रसार किया जाएगा। माइक से लोगों से बताया जाएगा कि मास्क का उपयोग जरूर करें। जरूरत हो तब ही घर से निकले और सोशल डिस्र्टेंंसग का पालन करें। इस मौके पर उपमुख्यमंत्री तारकिशोर प्रसाद, उपमुख्यमंत्री रेणु देवी, शिक्षा मंत्री विजय कुमार चौधरी, स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय, मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव दीपक कुमार आदि उपस्थित थे। 

दवा, ऑक्सीजन, एंबुलेंस की कमी नहीं होगी
मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि कोरोना संक्रमितों के इलाज के लिए हर व्यवस्था की जा रही है। कोविड डेडिकेटेड अस्पतालों और बेडों की संख्या बढ़ायी जा रही है। दवा, ऑक्सीजन और एंबुलेंस की कोई कमी नहीं होने दी जाएगी। मुख्यमंत्री ने कहा कि ऑक्सीजन की पर्याप्त आपूर्ति के लिए सारे इंतजाम किये जा रहे हैं। ऑक्सीजन आपूर्ति को लेकर केंद्र सरकार से भी बात हुई है। मुख्यमंत्री ने कहा कि जितने भी संख्या में और एंबुलेंस की जरूरत होगी, उसकी व्यवस्था की जा रही है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button