जबलपुरमध्य प्रदेश

तेज आंधी-बारिश:पेड़ गिरने से बाधित रहा आवागमन, विद्युत लाइनों पर पेड़ों के गिरने से घंटों गुल रही बिजली, लोग परेशान

जबलपुर, यशभारत।  मौसम का मिजाज लगातार बदला हुआ है। रविवार के बाद सोमवार शाम को भी उप-नगरीय क्षेत्रों पाटन, गांधीग्राम, सिलौड़ी सहित अन्य क्षेत्रों में तेज आंधी के साथ बारिश हुई। तेज आंधी चलने से कई जगह पेड़ों के सड़क पर गिरने से मार्गों पर आवागमन थम गया। वहीं वृक्षों के विद्युत लाइन पर गिरने से कई ग्रामों में घंटों विद्युत व्यवस्था ठप हो गई। कई कच्चे मकानों के छप्पर भी उडऩे की खबर है।

सिलौंड़ी में भी बरसे मेघ

सोमवार को सिलौंड़ी में आधा घंटे तक बारिश होती रही। इससे फिजा में ठंडक घुल गई। सिलौंड़ी के किसान केशव प्रसाद राय, नीरज राय, आदित्य राय ने बताया कि बारिश से मूंग, हरी सब्जियां बोने वाले किसानों को फायदा होगा ।

पाटन: बिजली व्यवस्था चौपट

नगर परिषद पाटन एवं समस्त ग्रामीण क्षेत्रों में तेज आंधी के साथ हुई बारिश से विद्युत व्यवस्था गड़बड़ा गई। ग्राम चपोद के इंद्रकुमार पटेल, दिनेश पटेल, शिवकुमार एवं पाटन नगर के देवेंद्र कुमार पांडेय, अमित साहू, जिनेन्द्र जैन ने बताया कि शाम 5 बजे से तेज आंधी चलने व पानी गिरने से बिजली चली गई। कहीं-कहीं पेड़ों के लाइन पर गिरने से तार भी टूट गए, जिससे अब 3 चार दिन बिजली आना संभव नही है। पेड़ों के गिरने से पाटन, मनकेड़ी, उडऩा, भेड़ाघाट जाने वाले रास्ते बंद हो गए।

गांधीग्राम: उमस भरी गर्मी से मिली राहत

लगातार दूसरे दिन झमाझम हुई बारिश से पिछले कई दिनों से उमस भरी गर्मी से परेशान लोगों को राहत मिली। गांधीग्राम समेत ग्रामीण इलाकों में सोमवार शाम अचानक मौसम बदला। आसमान पर बादलों का डेरा छाते ही अंधेरा छाया और फिर तेज हवाओं के साथ रिमझिम बारिश हुई।

बारिश की फुहार से हर किसी ने अपने को तरोताजा महसूस किया। किसानों ने भी राहत की सांस ली और गर्मी की फसल से खेतों में रौनक दिखी। खेतों में लगी सब्जी और अन्य मुरझाई फसलों के लिए बारिश संजीवनी की तरह थी।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button