जबलपुरमध्य प्रदेश

जबलपुर पुलिस सिर्फ लाठियां नहीं चालती वो मददगार भी बनती है

केंट थाना प्रभारी और आरक्षक ने पेश की इंसानियत, प्लाज्मा डोनेट किया

यशभारत, जबलपुर। कोरोना संक्रमण लगातार बढ़ रहा है। मरीजों की जान बचाना ही सबसे पहला कर्तव्य और धर्म हो गया है। डॉक्टर तो अपना काम कर ही रहे परंतु पुलिस भी इस काम में पीछे नहीं है। जबलपुर पुलिस ने एक बार फिर ऐसा कारनामा कर दिखाया है जिससे सब तरफ वाह-वाही हो रही है। दरअसल केंट थाना प्रभारी और एक आरक्षक ने इंसानियत की मिसाल पेश करते हुए सतना जिले से एक महिला और छिंदवाड़ा जिले के एक व्यक्ति को अपना प्लाज्मा डोनेट किया।
उल्लेखनीय है कि बीते दिनों गैलेक्सी अस्पताल में आॅक्सीजन गैस सिलेण्डर खत्म होने जाने से भयावह स्थिति बनी थी जिसमें 5 लोगों की मौत भी हुई थी। परंतु पुलिस कर्मियों ने समय रहते हुए साहस का परिचय दिया और आॅक्सीजन सिलेण्डर की व्यवस्था कर अस्पताल में भर्ती अन्य मरीजों की जान बचाई थी।

गंभीर हालत होने पर प्लाज्मा दिया
सतना जिले से आयी एक महिला एवं छिंदवाड़ा जिले से आये कोरोना संक्रमित पुरुष जिनकी हालत गम्भीर थी जिसे देखते हुये प्लाज्मा थेरेपी की सलाह चिकित्सकों द्वारा दी गयी, दोनों संक्रमित महिला एवं पुरूष को बी पॉजिटिव प्लाज्मा की आवश्यकता थी, दोनों के परिजन प्लाज्मा की तलाश में परेशान थे। दोनों के गंभीर हालत की जानकारी लगने पर पुलिस अधीक्षक जबलपुर सिद्धार्थ बहुगुणा (भा.पु.से.) द्वारा अधीनस्थ अधिकारियों से चर्चा कर दोनों कोरोना संक्रमितों को राहत पहुंचाने हेतु निर्देशित किया गया।

कोरोना संक्रमण की चपेट में थे दोनों
जानकारी लगते ही थाना प्रभारी कैंट विजय तिवारी और कैंट थाने में ही पदस्थ आरक्षक रामकृष्ण शर्मा जिनका रक्त समूह बी पॉजिटिव है तुरंत प्लाज्मा दान करने के लिए ब्लड बैंक पहुंचे और प्रक्रिया पूर्ण होने के पश्चात प्लाज्मा का दान कर मानवता की मिसाल पेश की। ज्ञात हो कि थाना प्रभारी विजय तिवारी और आरक्षक रामकृष्ण शर्मा पूर्व में कर्तव्य निर्वहन के दौरान कोरोना वायरस से संक्रमित हो गए थे जो फिलहाल स्वस्थ हैं। थाना प्रभारी कैंट विजय तिवारी और कैंट थाने में ही पदस्थ आरक्षक रामकृष्ण शर्मा के इस सराहनीय कार्य की जबलपुर पुलिस में सराहना की जा रही है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button