जबलपुरमध्य प्रदेशराज्य

छह अस्पतालों पर लगेगा टीका:दो दिन टीका नहीं लगेगा, एक मई को छह अस्पतालों पर लगेगा 700 वैक्सीन

यशभारत संवाददाता, जबलपुर।  एक मई को होने वाली वैक्सीनेशन प्रक्रिया में पहली बार 18 वर्ष से अधिक उम्र के लोगाें को शामिल किया जा रहा है। कुछ छह अस्पतालों को वैक्सीनेशन सेंटर बनाया गया है। इसके लिए 700 वैक्सीन की जरूरत पड़ेगी। इस बार बिना पूर्व रजिस्ट्रेशन के किसी किसी को मौके पर वैक्सीन नहीं लगेगी।

कोरोना संक्रमण से जूझ रहे युवकों को एक मई से बड़ी राहत मिलने जा रही है। पहली बार 18 वर्ष स ऊपर के लोगों को वैक्सीन लगने जा रही है। सरकारी अस्पतालों में जहां यह फ्री में लगाने की तैयारी है। वहीं प्राइवेट अस्पतालाें में शुल्क देने हाेंगे।
जबलपुर में छह अस्पतालों में लगेगी वैक्सीन

  • हितकारिणी लॉ कॉलेज, बड़ी ओमती
  • नेताजी सुभाषचंद्र बोस मेडिकल कॉलेज
  • रेलवे स्कूल, इंदिरा मार्केट के पास
  • – कल्याण भवन, एमपीइबी-रामपुर
  • सरकारी स्कूल, सुहागी
  • मिलेट्री हॉस्पिटल

ऑनलाइन बुकिंग का स्लाॅट फुल
बुधवार को ऑनलाइन पंजीयन प्रक्रिया शुरू होने के साथ ही पहले दिन टीका लगवाने वाले युवाओं का स्लॉट फाइनल कर दिया गया है। 18-44 वर्ष आयु वर्ग वाले व्यक्तियों के टीकाकरण अभियान के पहले दिन 1 मई को 700 युवकों को ही कोरोना वैक्सीन की पहली डोज लगेगी। नए चरण के टीकाकरण अभियान की तैयारियों के लिए गुरुवार 29 अप्रैल और शुक्रवार 30 अप्रैल का कोरोना टीकाकरण कार्यक्रम भी स्थगित कर दिया गया है
मौके पर नहीं होगा पंजीयन
1 मई से शुरु होने वाले कोरोना टीकाकरण के नए चरण के लिए मौके पर ऑनलाइन पंजीयन की व्यवस्था नहीं होगी। इच्छुक व्यक्तियों को मोबाइल पर कोविन और आरोग्य सेतू एप अपलोड करके कोविड-19 वैक्सीनेशन के लिए पंजीयन करना होगा। पंजीकृत व्यक्ति अपनी इच्छानुसार टीकाकरण केन्द्र चुन सकेंगे। टीका लगाने की तारीख संबंधित को मोबाइल पर संदेश भेजा जाएगा। उसी तिथि पर तय किए गए केन्द्र में उपस्थित होकर टीका लगवाना होगा। यह कवायद टीकाकरण केन्द्र में भीड़ पर नियंत्रण के लिए की गई है।
युवाओं को लगेगी पहली डोज
कोरोना टीका लगवाने के लिए जिले में 18-44 वर्ष आयु वर्ग के लगभग साढ़े 13 लाख लोगों के होने का अनुमान है। इसके अनुसार स्वास्थ्य विभाग ने टीकाकरण का खाका तैयार कर लिया है। सरकार से कोरोना टीका की उपलब्धता के अनुसार टीकाकरण केन्द्रों और टीका लगवाने व्यक्तियों की संख्या में वृद्धि की जाएगी। 1 मई के लिए टीकाकरण का सेशन बुधवार की रात को क्रिएट कर दिया गया है। दो केन्द्र में 150-150 डोज और बाकी चार केन्द्रों में सौ-सौ युवाओं को कोरोना वैक्सीन की पहली डोज लगाई जाएगी।
ऑनलाइन पंजीयन में आई परेशानी
18 से 44 वर्ष की आयु वालों को कोरोना टीका लगाने बुधवार को शाम 4 बजे कोविन पोर्टल और आरोग्य सेतु पर ऑनलाइन पंजीयन शुरु हो गया। लेकिन प्रक्रिया प्रारंभ होते ही तकनीकी परेशानी के कारण कई के पंजीयन की प्रक्रिया अटकने लगी। कई लोगों ने शिकायत की कि लॉग इन में समस्या हुई। ओटीपी देर से मिलने के कारण समय खत्म हो गया। वेबसाइट नहीं खुलने के कारण पंजीयन की प्रक्रिया पूरी नहीं कर सकें।
दो दिन बाद तक शुरू हो पाएगा 45 से अधिक उम्र वालों का वैक्सीनेशन
जिला टीकाकरण अधिकारी डॉ. शत्रुघन दाहिया के मुताबिक 1 मई से 18 वर्ष से अधिक उम्र वालों के लिए टीकाकरण का नया चरण शुरु हो रहा है। उसकी तैयारी के लिए जिले में 29 और 30 अप्रैल को कोरोना वैक्सीनेशन का कार्य निरस्त किया गया है। 1 मई को ऑनलाइन पंजीयन करा चुके 700 हितग्राही को टीका लगेगा। 45 वर्ष से ज्यादा उम्र वाले हितग्राहियों के लिए टीकाकरण की प्रक्रिया दो दिन बाद पूर्व की तरह ही जारी रहेगी।

Related Articles

One Comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button