देश

चीन ने गोगरा और हॉट स्प्रिंग खाली करने से किया इनकार

नई दिल्ली
धोखेबाज चीन से आप किसी भी ईमानदारी की उम्मीद नहीं कर सकते हैं और चीन ने एक बार फिर से अपनी अकड़ भारत को दिखानी शुरू कर दी है। चीन ने दो बेहद महत्वपूर्ण इलाके गोगरा और हॉट स्प्रिंग खाली करने से साफ इनकार कर दिया है। चीन ने सिर्फ इनकार ही नहीं किया है, चीन ने भारत के सामने ये भी कहा है कि अब तक की बातचीत में भारत को जो मिल गया है, उससे भारत को खुश हो जाना चाहिए। भारत और चीन की सैनिकों के बीच 11 दौर की बातचीत हो चुकी है, और संडे एक्सप्रेस की रिपोर्ट के मुताबिक चीन ने गोगरा और हॉट स्प्रिंग क्षेत्र को खाली करने से मना कर दिया है। 

चीन की रिपोर्ट के मुताबिक 9 अप्रैल को भारत और चीन के सैन्य अधिकारियों की कॉर्प्स कमांडर लेवल की आखिरी बारा बातचीत हुई थी, जिसमें चीन ने अपनी सेना को और पीछे हटाने से साफ इनकार कर दिया है। रिपोर्ट के मुताबिक चीनी सैनिकों ने हॉट स्प्रिंग और गोगरा पोस्ट से हटने से तो इनकार किया ही है, इसके साथ ही डेपसांग प्लेन्स अभी भी दोनों देशों के बीच संघर्ष का प्रमुख बिंदु बना हुआ है। हालांकि, कई दौर की बातचीत के बाद अभी तक भारत और चीन की सेना अपने अपने हथियार और निर्माण के साथ पैंगोंग सो झील के उत्तरी और दक्षिणी हिस्से और कैलाश रेंज को फरवरी में ही खाली कर चुकी है। 

 सूत्रों के हवाले से बड़ा दावा किया है। संडे एक्सप्रेस को चीन के साथ बातचीत की पूरी प्रक्रिया में पिछले साल अहम भूमिका निभाने वाले अधिकारी ने कहा है कि हॉट स्प्रिंग और गोगरा के पेट्रोलिंग प्वाइंट 15, पीपी-17ए से चीनी सैनिकों ने पीछे हटने से साफ मना कर दिया है। उच्च सूत्रों ने दावा किया कि पहले चीन की सेना इन इलाकों को खाली करने के लिए तैयार हो गई थी, मगर बाद में चीनी सैनिकों ने गोगरा और हॉट स्प्रिंग को खाली करने से इनकार कर दिया। संडे एक्सप्रेस ने दावा किया है कि आखिरी बातचीत में चीन की तरफ से भारत को कहा गया है कि 'जो मिल गया उसी में खुश हो जाना चाहिए' भारतीय क्षेत्र में घुसे हैं चीनी सैनिक! संडे एक्सप्रेस की रिपोर्ट के मुताबिक गोगरा और हॉट स्प्रिंग के पीपी-15 और पीपी-17ए में चीनी सैनिकों की संख्या में हालांकि कमी आई है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button