भोपालमध्य प्रदेश

ग्रामीण आजीविका मिशन की 37 लाख महिलाएं फील्ड में जाकर लोगों को करेंगी वैक्सीनेशन के लिए प्रेरित

भोपाल
ग्रामीण आजीविका मिशन से जुड़ी 37 लाख महिलाएं अब कोरोना को रोकने के लिए काम करेंगी। कोविड से बचने के लिए ये पांच सूत्रों पर काम करेंगी। मिशन इन्हें प्रशिक्षण देकर कोरोना रोकने के लिए ट्रेंड कर रहा है इसके बाद ये फील्ड में जाकर लोगों की आदतों में बदलाव करवाने के लिए उन्हें प्रेरित करेगी ताकि वे कोरोना को रोकने में सफल हो सके।
 
इन महिलाओं को प्रदेशभर में प्रशिक्षण दिया जा रहा है। जो पांच सूत्र कोरोनो से बचने में मदद करेंगे उसके बारे में इन्हें बताया जा रहा है। इनमें पहला सूत्र है घर से बाहर निकलते समय और काम पर जाने के दौरान अपने मुंह और नाक को मास्क, दुपट्टे या साफ  कपड़े से ढक कर रखे। एक मीटर की दूरी बनाये रखे, गले ना लगाए और न ही हाथ मिलाए। तीसरा सूत्र है कम से कम बीस सेकण्ड के लिए अपने हाथ बार-बार धोए। सार्वजनिक स्थान पर ना थूके। अपनी आंखों, नाक और मुंह को ना छुएं। चोथा सूत्र है  गर्म पानी पिये, पोष्टिक खाना खाएं, अपने भोजन में अदरक , हल्दी, तुलसी, जीरा, दालचीनी शामिल करे। इसके अलावा पांचवा सूत्र ये महिलाएं लोगों को बताएंगी कि यदि किसी को बअुखार,सूखी खांसी और सांस लेने में कठिनाई जैसे लक्षण दिखते है तो चिकित्सीय परामर्श लें।

ग्रामीण आजीविका मिशन कोविड से लोगों को बचाने महिलाओं को ट्रेंड कर रहा है इसके लिए पहले मास्टर ट्रेनर तैयार किए जा रहे है। राज्य इकाईके योजना प्रभारी तथ प्रत्येक जिले में दो, प्रत्येक विकासखंड में दो इस तरह कुल 532 मास्टर ट्रेनर आॅनलाईन प्रशिक्षित किए जा रहे है। ये मास्टर ट्रेनर दो चरणों में अन्य महिलाओं को प्रशिक्षित करेंगे फिर ये महिलाएं पूरे प्रदेश में लोगों को जागरुक करने का काम करेंगी। इस प्रशिक्षण में कुल 44 हजार 553 गांवों में गठित 3 लाख 26 हजार 447 स्वसहायता समूहों की कुल 37 लाख महिला स्वसहायता समूह सदस्यों को  कोविड 19 की रोकथाम के संबंध में जागरुक एवं प्रशिक्षित किया जाएगा। यह प्रशिक्षण 20 अप्रैल को पूरा हो जाएगा।

 प्रशिक्षण में कोरोना से बचने के लिए वैक्सीन लगवाने के लिए भी प्रेरित किया जाएगा। यह कैसे और कब करवाना है ये भी महिलाएं बताएंगी। वे बताएंगी कि कोविड 19 का टीका सुरक्षित है। हर वैज्ञानिक कसौटी पर खरा है। इसके लिए 45 वर्ष से अधिक उम्र के सभी व्यक्ति टीका लगवा सकते है। टीकाकरण के लिए पंजीकरण करवाएं या फोन पर पंजीयन करवाएं या स्वयं आकर करवाएं और टीका लगवाएं। इसके लिए आधार कार्ड, ड्राइविंग लाइसेंस , वोटर कार्ड, पेनकार्ड, मनरेगा कार्ड की जरुरत होती है। सरकारी स्वास्थ्य केन्द्रों में फ्री टीकाकरण का दिन एवं स्थान चुना जा सकता है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button