कटनीजबलपुरमध्य प्रदेश

खजुराहो संसदीय क्षेत्र के नेताओं को साधने फिर मोर्चे पर निकले वीडी

 

Thank you for reading this post, don't forget to subscribe!

कटनी, यशभारत। भारतीय जनता पार्टी ने लोकसभा चुनाव की तैयारियों का आगाज कर दिया है। दिल्ली दरबार खजुराहो को लेकर क्या निर्णय लेता है, यह भविष्य की गर्त में है, किन्तु सांसद वीडी शर्मा ने अपनी ओर से इस इलाके में सक्रियता बढ़ा दी है। पार्टी ने उन्हें इसी सीट से दोबारा मैदान में उतार दिया तो इसके लिए सब कुछ पहले से दुरुस्त किया जा रहा है। इसी बात को ध्यान में रखकर कल संसदीय क्षेत्र के मध्य में पडऩे वाले पन्ना में पूरे खजुराहो लोकसभा के खास-खास नेताओं और निर्वाचित जनप्रतिनिधियों की बैठक लेकर वीडी ने अपने इरादे जाहिर कर दिए हैं। सूत्रों के मुताबिक पन्ना में लोकसभा चुनाव का दफ्तर भी कल खोल दिया गया है। अब सारी गतिविधियां यहीं से संचालित होंगी। आज बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष ने कटनी आकर कटनी के नेताओं को भी लोकसभा चुनाव की तैयारियों में जुट जाने का मंत्र दिया।

सूत्रों के मुताबिक पार्टी फरवरी में करीब 200 सीटों पर अपने नामों का एलान कर देगी। केंद्रीय चुनाव समिति ने लोकसभा चुनाव के लिए प्रत्याशी चयन का काफी कुछ होमवर्क कर लिया है। प्रदेश की खजुराहो लोकसभा सीट हाई प्रोफाइल सीट मानी जाती है। यहां से पार्टी के प्रदेश के मुखिया वीडी शर्मा सांसद हैं। मोदी लहर में वे करीब 5 लाख वोटों के बड़े अंतर से पिछला चुनाव जीते थे, ऐसी स्थिति में उनकी टिकट तय है। पार्टी में बढ़े ओहदे के साथ वे दिल्ली दरबार के विश्वसनीय नेताओं में माने जाते हैं। इसके अलावा प्रदेश में उनके नेतृत्व में पार्टी ने विधानसभा चुनाव में शानदार प्रदर्शन किया है। ऐसी स्थिति में उनके बारे में दिल्ली हाईकमान जो भी निर्णय लेगा, वह भविष्य की योजनाओं को ध्यान में रखकर। सूत्र बताते हैं कि वीडी को यदि खजुराहो से ड्राप किया गया तो भोपाल या जबलपुर सीट का विकल्प भी उनके पास खुला है। टिकट तो केंद्रीय नेतृत्व को तय करना है, किन्तु वीडी अपनी पसंद आलाकमान को बता सकते हैं। पार्टी भोपाल में साध्वी प्रज्ञा ठाकुर को दोबारा मौका देने के पक्ष में नही है, जबकि जबलपुर के सांसद राकेश सिंह को प्रदेश सरकार में मंत्री बनाया जा चुका है। ऐसी स्थिति में इन दोनों महत्वपूर्ण सीटों पर भी वीडी की नजर है। वैसे सूत्र बता रहे हैं कि साध्वी उमा भारती का नाम भी भोपाल और खजुराहो दोनों ही सीटों से आ सकता है। उमा भारती ने काफी पहले ही घोषणा कर दी थी कि वे 2024 का लोकसभा चुनाव लडेंग़ी। इन तमाम स्थितियों के बीच वीडी शर्मा खजुराहो पर अपनी पकड़ ढीली नही रखना चाहते। अपने संसदीय कार्यकाल में सत्ता से लेकर संगठन तक की समूची जमावट भी उन्होंने अपने हिसाब से करके रखी है।

खजुराहो संसदीय क्षेत्र के अंतर्गत आने वाले तीन जिलों कटनी, पन्ना और छतरपुर में उन्ही नेताओं को अहमियत मिली है, जो सीधे तौर पर वीडी शर्मा के लिए निष्ठावान हैं। संगठन में ऐसे लोगों की नियुक्तियां कर वीडी ने समूची कमान अपने हाथ मेें रखी है। संसदीय क्षेत्र में किसी दूसरे नेता का कद उतना नही बढऩे दिया जा रहा कि वह वीडी को चुनौती देने के लिए खड़ा हो जाये।

यहीं से लडऩा पड़ा, तो उसकी तैयारी…

सूत्र बताते हैं कि दोबारा खजुराहो से चुनाव लडऩे की संभावनाओं के मद्देनजर वीडी शर्मा ने पूरे क्षेत्र को मथना शुरू कर दिया है। कल पन्ना में समूचे संसदीय क्षेत्र के विधायकों, अन्य निर्वाचित पदाधिकारियों, संगठन के प्रमुख लोगों और अपनी गुडबुक में शामिल नेताओं की बैठक लेकर उन्होंने एक तरह से चुनाव की तैयारियों का बिगुल फंूक दिया है। उन्होंने साफ कर दिया है कि प्रत्याशी कोई भी हो जीत की इबारत लिखी ही जानी चाहिए। पन्ना की इस बैठक में कटनी जिले के विधायकों के साथ संगठन के प्रमुख पदाधिकारी भी उपस्थित हुए। पन्ना में उन्होंने लोकसभा क्षेत्र का चुनाव कार्यालय भी अभी से खोल दिया है। दरअसल वीडी ने बैठकों के जरिये संसदीय क्षेत्र में पकड़ और प्रभाव रखने वाले तमाम नेताओं को साधना शुरू कर दिया है। कमजोर कडिय़ों को भी दुरुस्त किया जा रहा है। इसी सिलसिले में वे आज सारा दिन कटनी जिले में भी समय दे रहे हैं। भाजपा जिला कार्यालय में कार्यकर्ताओं से मुलाकात कर उन्हें लोकसभा चुनाव में जुट जाने का संदेश देकर वे गहोई समाज के सामूहिक विवाह सम्मेलन में शामिल होने वाले थे। अलावा इसके उन्हें 4 करोड़ 65 लाख की लागत के नगर निगम के विकास कार्यों का भूमिपूजन भी करना था। इसके बाद बहोरीबंद विधानसभा क्षेत्र के स्लीमनाबाद में सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र का लोकार्पण तथा ग्राम गाढ़ा में पावर हाउस के लोकार्पण में शामिल होना था। इन तमाम कार्यक्रमों के जरिये वीडी ने कटनी जिले में अपनी उपस्थित को ताजा कर दिया है। हालांकि बहुत से ऐसे काम हैं, जो उनके कार्यकाल में नही हो सके। जनता को प्रदेश स्तर के एक बड़े चेहरे से संसदीय क्षेत्र को लेकर जो उम्मीदें थी, वो धरातल पर उतरती नजर नही आई। कांग्रेस इन आरोपों के साथ सांसद से कई सवाल भी करती है।

1.5/5 - (2 votes)

Related Articles

Back to top button