बिज़नेस

कोरोना की मार: 1427 अंक लुढ़का सेंसेक्स, निफ्टी भी धड़ाम

नई दिल्ली
आज सप्ताह के पहले कारोबारी दिन यानी सोमवार को शेयर बाजार लाल निशान पर खुला। देश में प्रतिदिन नए कोरोना मरीजों और कोविड से मरने वालों की संख्या में भारी बढ़ोतरी से दहशत पैदा कर रही है। इसलिए निवेशक भी सतर्क हैं। बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज का प्रमुख इंडेक्स सेंसेक्स 1,061.72 अंकों (2.17 फीसदी) की भारी गिरावट के साथ 47770.31 के स्तर पर खुला। वहीं नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 359.90 अंक यानी 2.46 फीसदी की गिरावट के साथ 14258 के स्तर पर खुला। बीते सप्ताह बीएसई का 30 शेयरों वाला सेंसेक्स 759.29 अंक या 1.53 फीसदी टूटा। आज 183 शेयरों में तेजी आई, 615 शेयरों में गिरावट आई, वहीं 53 शेयरों में कोई बदलाव नहीं हुआ।

सुबह 9.41 बजे- सेंसेक्स में 1427.62 अंकों (2.92 फीसदी) की भारी गिरावट आई और यह 47404.62 के स्तर पर पहुंच गया। वहीं निफ्टी 407.90 अंक (2.79 फीसदी) की गिरावट के साथ 14209.95 के स्तर पर कारोबार कर रहा है।

देश में बेकाबू हुई कोरोना वायरस की दूसरी लहर का कहर बढ़ता ही जा रहा है। देश में पिछले 24 घंटों में 2.75 लाख से ज्यादा नए कोरोना मरीज मिले हैं और 1626 से अधिक लोगों की जिंदगी संक्रमण ने ले ली।  

शेयर बाजारों में इस सप्ताह काफी उतार-चढ़ाव रह सकता है। विश्लेषकों का कहना है कि कम कारोबारी सत्रों वाले सप्ताह में बाजार का रुख काफी हद तक कोविड-19 संक्रमण के रुख, वैश्विक संकेतों और कंपनियों के तिमाही नतीजों से तय होगा। बुधवार को राम नवमी पर बाजार में अवकाश रहेगा। इसके अलावा डॉलर के मुकाबले रुपये के रुख, विदेशी संस्थागत निवेशकों के निवेश तथा कच्चे तेल की कीमतों से भी बाजार की दिशा तय होगी।

शुक्रवार को अमेरिका का डाउ जोंस 0.48 फीसदी की बढ़त के साथ 164.68 अंक ऊपर 34,200.70 पर बंद हुआ था। नैस्डैक 0.10 फीसदी की बढ़त के साथ 13.58 अंक ऊपर 14,052.30 पर बंद हुआ। इसी तरह फ्रांस और जर्मनी के बाजार भी बढ़त के साथ बंद हुए। एशियाई शेयर बाजारों में, हांगकांग का हेंगसेंग इंडेक्स 301 अंक ऊपर 29,310 पर करोबार कर रहा है। चीन का शंघाई कंपोजिट इंडेक्स भी 42 अंक की बढ़त के साथ 3,468 पर आ गया है। कोरिया का कोस्पी इंडेक्स 13 अंकों की मामूली बढ़त के साथ 3,212 पर कारोबार कर रहा है। ऑस्ट्रेलिया का ऑल ऑर्डनरीज इंडेक्स 15 अंक ऊपर 7,341 पर पहुंच गया है। जापान का निक्केई इंडेक्स 27 अंक ऊपर 29,710 पर कारोबार कर रहा है।

विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों (एफपीआई) ने अप्रैल में अब तक भारतीय बाजारों से 4,615 करोड़ रुपये निकाले हैं। कोविड-19 के बढ़ते मामलों के बीच विभिन्न राज्यों में सर्वजनिक प्रतिबंधों की घोषणा बाद विदेशी निवेशकों में बेचैनी है और वे भारतीय बाजार से निकासी कर रह हैं। डिपॉजिटरी के आंकड़ों के अनुसार विदेशी निवेशकों ने एक से 16 अप्रैल के बीच शेयरों से शुद्ध रूप से 4,643 करोड़ रुपये निकाले और ऋण-पत्र या बांड बाजार में 28 करोड़ रुपये डाले। इस तरह भारतीय पू्ंजी बाजार से उनकी शुद्ध निकासी 4,615 करोड़ रुपये रही। एफपीआई ने मार्च में बाजारों में 17,304 करोड़ रुपय फरवरी में 23,663 करोड़ रुपये और जनवरी में 14,649 करोड़ रुपये का शुद्ध निवेश किया था।

दिग्गज शेयरों की बात करें, तो आज शुरुआती कारोबार के दौरान सभी शेयर लाल निशान पर खुले। शीर्ष गिरावट वाले शेयरों में सन फार्मा, इंफोसिस, डॉक्टर रेड्डी, टीसीएस,एचसीएल टेक, हिंदुस्तान यूनिलीवर, नेस्ले इंडिया, टेक महिंद्रा, रिलायंस, आईटीसी, टाइटन, बजाज फिनसर्व, एशियन पेंट्स, मारुति, पावर ग्रिड, भारती एयरटेल, एचडीएफसी बैंक, ओएनजीसी, इंडसइंड बैंक, एनटीपीसी, आदि शामिल हैं।

प्री ओपन के दौरान सुबह 9.02 बजे सेंसेक्स 491.98 अंक (1.01 फीसदी) नीचे 48340.05 के स्तर पर था। वहीं निफ्टी 276.50 अंक (1.89 फीसदी) नीचे 14341.40 के स्तर पर था।

वैश्विक बाजारों के सकारात्मक रुख के बीच शुक्रवार को बाजार में दिनभर के उतार-चढ़ाव देखने को मिला था। सेंसेक्स 28.35 की बढ़त के साथ 48,832.03 अंक पर बंद हुआ था। वहीं निफ्टी 36.40 अंक के लाभ से 14,617.85 अंक पर बंद हुआ था।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button