छत्तीसगढ़राज्य

किराना, अनाज, फल, सब्जी दुकानों के साथ बैंकों को भी निर्धारित समय दे खोलने की अनुमति

रायपुर
लॉकडाउन की 10 अवधि दिन अवधि पूरी होने के बाद जिला प्रशासन द्वारा आज से कुछ शर्तों के साथ ठेले के माध्यम से किराना सामान, फल व सब्जी बेचने की अनुमति दी गई लेकिन अधिकतर जगहों पर सब्जी के ठेले तो पहुंचे पर वह भी महंगे दामों में लेकिन किराना सामानों के ठेले नहीं पहुंच पाए क्योंकि यह संभव नहीं लग रहा हैं। इसी को देखते हुए रायपुर सराफा एसोसिएशन के अध्यक्ष हरख मालू ने रायपुर कलेक्टर डॉ. एस.भारतीदासन को पत्र लिखकर किराना, अनाज, फल, सब्जी की दुकानों के साथ ही बैंकों को भी निर्धारित समय के लिए खोलने की अनुमति देने की मांग की ताकि आम लोगों को आसानी से सामान मिल सकें।

पत्र के माध्यम से अध्यक्ष मालू, पवन अग्रवाल, लक्ष्मीनारायण लाहोटी, प्रहलाद सोनी व अनिल कुचेरिया ने कलेक्टर को बताया कि 10 दिन तक लॉकडाउन लगाया था जिसमें जरुरत की चीजों के साथ ही सभी प्रकार की गतिविधियों पर प्रतिबंध लगा दिया था, इसके बाद 7 दिन के लिए पुन: लॉकडाउन को बढ़ा दिया गया और इसमें जरुरत की सामान आम लोगों तक आसानी से पहुंच सकें इसके लिए किराना दुकानदारों को ठेलों के माध्यम से सामान बेचने की अनुमति दी गई, वहीं सब्जी वालों को भी। सब्जी तो अधिकतर गली और मोहल्लों में आसानी से पहुंच गया लेकिन किराना सामानों के ठेलों उनके घरों तक नहीं पहुंच पाई इसके कारण आम जनता को दैनिक उपयोग की वस्तुएं आसानी से उपलब्ध नहीं हो पाई।

वैसे भी ठेलों के माध्यम से किराना के सामान बेचा संभव दिखाई नहीं दे रहा क्योंकि जितना सामान दुकान में आता है इतना सामान ठेले में रखकर बेचना संभव नहीं हैं। इसी को ध्यान में रखते हुए किराना व अनाज की दुकानों को निर्धारित समय के लिए दुकान खोलने की अनुमति प्रदान की जाए ताकि आम जनता को दैनिक उपयोग की वस्तुएं आसानी से उपलब्ध हो सकें। इसके साथ ही फल व सब्जी की दुकानों के साथ ही बैंकों को भी निर्धारित समय के लिए खोलने की अनुमति दिया जाए।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button