इंदौरमध्य प्रदेश

कलेक्‍टर ने लगाया इंदौर में 30 अप्रैल तक शादी-पार्टियों में पाबंदी

इंदौर
मध्‍य प्रदेश के व्‍यावसायिक शहर इंदौर में कोरोना का कहर लगातार बढ़ता जा रहा है. इस वजह से यहां शादी समेत सभी तरह के समारोहों को 30 अप्रैल तक के लिए टाल दिया है. प्रशासन ने अपील की है कि न खुद के लिए खतरा बनें, न परिवार को खतरे में डालें. शादियों की तारीख आगे बढ़ाएं.

गौरतलब है कि है कि इंदौर में लगातार 6वें दिन कोरोना के एक हजार से ज्‍यादा नए मरीज (1698) सामने आए. यह अभी तक का सबसे बड़ा आंकड़ा है. इसे देखते हुए कलेक्टर मनीष सिंह ने 30 अप्रैल तक शादियों को रद्द करने के निर्देश जारी किया है. सिंह ने कहा- हम इंदौर जिले में किसी को भी शादी की अनुमति नहीं दे रहे हैं. सभी से अनुरोध है कि जो स्थिति है, उसके हिसाब से अपने यहां की शादियां टाल दें. यदि किसी ने शादी की तो आप मानकर चलिए कि आप खुद के साथ अपने परिवार को संकट में डाल रहे हैं.

कलेक्टर मनीष सिंह ने कहा- शादी जैसे आयोजन पर 100 फीसदी संक्रमण होगा. 30 अप्रैल तक कोई भी घर से बाहर न निकले, क्योंकि संक्रमण दर के कम होने में टाइम लगेगा. अस्पतालों में बेड फुल हैं. जिस प्रकार से यह महामारी फैल रही है, किसी भी देश में इस प्रकार से मेडिकल व्यवस्था नहीं हो सकती कि इतने मरीजों को आईसीयू और एचडीयू बेड उपलब्ध करवाया जा सके.

बता दें कि इंदौर में एक्टिव मरीजों का आंकड़ा 11 हजार 804 तक पहुंच गया है. एक्टिव मरीजों के मामले में भी यह आंकड़ा सबसे बड़ा है. इसके पहले 14 अप्रैल 2021 को 1693 संक्रमित मिले थे. अप्रैल के 18 दिनों की बात करें, तो 20,586 केस मिले हैं. इसके अलावा 92 संक्रमितों की जान गई है. अब तक 10 लाख 54 हजार 962 टेस्ट में से 91 हजार 15 मरीज मिले. इनमें में से 78 हजार 157 ठीक होकर घर लौट चुके हैं. वहीं, 7 नए मरीजों की मौत के साथ कुल आंकड़ा 1054 तक पहुंच गया है.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button