जबलपुरमध्य प्रदेश

कलेक्टर पहुंचे शराब खरीदने: हाथ पर हाथ धरे बैठा रहा आबकारी अमला

ग्राहक बनकर पहुंचे कलेक्टर ने जब्त की 80 पेटी शराब

यशभारत संवाददाता, जबलपुर।  कोरोना संक्रमण की चेन तोड़ने के लिए लागू लॉकडाउन में अवैध शराब की बिक्री बढ़ गई है। प्रशासन द्वारा शराब बिक्री पर रोक लगाए जाने के बाद अवैध बिक्री हो रही है। ऐसे मामलों की शिकायत लोगों ने आबकारी विभाग के साथ ही स्थानीय पुलिस को दी, लेकिन दोनों ही विभाग के जिम्मेदारों ने कार्रवाई नहीं की तब उमरिया कलेक्टर संजीव श्रीवास्तव स्वयं ही ग्राहक बनकर अवैध शराब की दुकान पहुंचे और शराब मिलते ही 80 पेटी शराब जब्त करवाई।

उमरिया में कोरोना संक्रमण की चेन तोड़ने 30 अप्रैल तक कोरोना कर्फ्यू लगाया है। जिसके तहत अति आवश्यक सेवा को छोड़कर अन्य दुकानें बंद रखने के निर्देश है। कलेक्टर संजीव श्रीवास्तव को बीते दिवस अज्ञात व्यक्ति ने सूचना दी कि विकटगंज उमरिया में देशी शराब के ठेके में पीछे के रास्ते शराब का अवैध व्यवसाय कर धारा 144 का उल्लंघन किया जा रहा है।

सूचना पर कलेक्टर संजीव श्रीवास्तव ने अपना काफिला कुछ दूर खड़ा कर ग्राहक बन पहुंच गए देशी शराब के ठेके पर और दरवाजा खटखटाया। कहा-दरवाजा खोलिए, तब अंदर से आवाज आती है कौन। तो कलेक्टर ने कहा खोलो कुछ लेना है। जैसे ही दरवाजा खुला कलेक्टर ने दबिश देकर 80 पेटी देशी शराब कमरे से जब्त की। जो कमरा सील नहीं था, कलेक्टर ने उक्त कमरे को सील कर संबंधित विभाग को कड़ी फटकार लगाते हुए ऐसे मामलों में सख्त कार्रवाई की बात कही।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button