देश

कई मेट्रो स्टेशन पर एंट्री बंद, प्रवासी मजदूरों का पलायन जारी

नई दिल्ली
कोरोना वायरस की दूसरी लहर को देखते हुए दिल्ली में सोमवार यानी 19 अप्रैल की रात 10 बजे से अगले सोमवार यानी 26 अप्रैल को तड़के पांच बजे तक 6 दिन के लॉकडाउन लगाया है। मंगलवार (20 अप्रैल) को दिल्ली में लॉकडाउन का पहला दिन है। लॉकडाउन के पहले दिन ही दिल्ली मेट्रो रेल कॉरपोरेशन (डीएमआरसी) ने सोशल डिस्टेंसिंग को देखते हुए दिल्ली मेट्रो की कई मेट्रो स्टेशन पर एंट्री बंद कर दी है। जिसमें राजीव चौक, नई दिल्ली, चांदनी चौक, एमजी रोड, कश्मीरी गेट, बहादुरगढ़ शहर, ब्रिगेडियर होशियार सिंह, श्याम पार्क, राज बाग, मोहन नगर शामिल है। 

सर्विस अपडेट देते हुए डीएमआरसी ने कहा है कि कुछ मेट्रो स्टेशन को अस्थायी रूप से बंद कर दिया गया है ताकि हम भीड़ नियंत्रण कर सके और सोशल डिस्टेंसिंग सुनिश्चित की जा सके। हालांकि एंट्री गेट बंद किए गए मेट्रो स्टेशन पर एक्जिट गेट खुले रहेंगे। जब से दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कोरोना वायरस के तेजी से बढ़ते मामलों के बीच सोमवार को लॉकडाउन की घोषणा की है, उसके बाद से दिल्ली में प्रवासी मजदूरों का पलायन जारी है। जिसकी तस्वीरें सोमवार रात को देखने को मिली। आनंद विहार रेलवे स्टेशन पर सैकड़ों की संख्या में प्रवासी मजदूर दिखाई दिए। ये हाल मंगलवार की सुबह दिख रही है। 

आनंद विहार बस टर्मिनल पर आज सुबह से प्रवासी श्रमिकों का ताता लगा हुआ है। दिल्ली में बीती रात आनंद विहार रेलवे स्टेशन पर सैकड़ों की संख्या में प्रवासी मजदूर दिखाई दिए, जो अपने घर जाने के लिए बस और ट्रेन लेने का इतंजार कर रहे थे। दिल्ली सीएम केजरीवाल ने लॉकडाउन को लेकर क्या-क्या कहा? दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली में बीते कुछ दिन से कोरोना के हर दिन आने वाले मामलों की संख्या 25,500 के लगभग बनी हुई है। दिल्ली मेंकोरोना वायरस के मरीजों की संख्या बढ़ती जा रही है, जिसकी वजह से दवाओं, बेड, आईसीयू, ऑक्सीजन की गंभीर कमी है। ऐसे में हमने लॉकडाउन लगाने का फैसला लिया है, जो बिल्कुल आसान नहीं था। 

अरविंद केजरीवाल ने प्रवासियों से अपील की कि वे दिल्ली छोड़कर न जाएं। उन्होंने कहा है कि प्रवासियों का खयाल रखा जाएगा। सीएम केजरीवाल ने कहा है कि लॉकडाउन के दौरान आवश्यक सेवाएं चलती रहेंगी, विवाह समारोहों में केवल 50 लोग ही शामिल होंगे। इन सभी के लिए विशेष पास जारी किए जाएंगे।
 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button