Uncategorized

ऑक्सीजन की कमी से तमिलनाडु के सरकारी अस्पताल में 13 मरीजों की मौत

तमिलनाडु के चेंगलपट्टु स्थित सरकारी अस्पताल में गत 24 घंटे में 13 मरीजों की मौत हुई है और परिजनों ने इसकी वजह ऑक्सीजन की कमी बताया है। हालांकि अधिकारियों ने बुधवार को इन आरोपों से इनकार किया।

शीर्ष अधिकारियों ने दावा किया कि चेंगलपट्टु स्थित सरकारी अस्पताल में 40 से 85 वर्ष के 13 मरीजों की मौत ऑक्सीजन की कमी से नहीं हुई है। वहीं, रातभर में हुई इन मौतों से इलाके के लोगों में दहशत है और मृतकों के परिजनों में आक्रोश है जिन्होंने मौत की वजह ऑक्सीजन की कमी को बताया है।

चेंगलपट्टु के जिलाधिकारी ए जॉन लुईस ने मंगलवार रात को हालात की समीक्षा की लेकिन ऑक्सीजन की कमी से मौत होने के आरोपों से इनकार किया है। लुईस ने पत्रकारों से कहा कि मैं पूरी रात क्षेत्र में था और हालात की निगरानी कर रहा था। ऑक्सीजन (मरीजों के लिए)की आपूर्ति बाधित नहीं हुई। उन्होंने कहा कि तकनीकी पहलुओं की जांच चिकित्सा शिक्षा निदेशक द्वारा की जा रही है।

अस्पताल के डीन डॉ.जे मुथुकुमारन ने कहा कि मृतकों में केवल एक कोविड-19 मरीज था जबकि बाकी कोविड-19 निगेटिव थे और विषाणु की वजह से निमोनिया और अन्य गंभीर बीमारियों से ग्रस्त थे।

उन्होंने बताया कि गत 24 घंटे में जिन मरीजों की मौत हुई है उनमें छह मरीजों को अन्य गंभीर बीमारियां थी जबकि सात अन्य जटिल स्थिति में भर्ती थे व इलाज का उनपर असर नहीं हो रहा था। उन्होंने बताया कि कर्मचारियों ने कुछ मरीजों में ऑक्सीजन के स्तर में कमी देखी और तत्काल उसे स्थिर करने की कोशिश की।

डीन ने कहा कि हम जिलाधिकारी के शुक्रगुजार हैं जिन्होंने पिछली रात ऑक्सीजन आपूर्ति के अनुरोध पर कार्रवाई की और ऑक्सीजन टैंकर की व्यवस्था की। इस समय अस्पताल में तीन दिन के लिए ऑक्सीजन है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button