जबलपुरमध्य प्रदेश

इम्तियाज तेल वाले के घर में हार-जीत का दांव, धरे गए 21 जुआरी

गोहलपुर और हनुमानताल पुलिस की संयुक्त कार्रवाई

यशभारत, जबलपुर। लॉकडाउन और रमजान को धत्ता बताते हुए 21 जुआरी चारखम्भा में जुआ फड़ सजा कर बैठे थे। 20 से 22 की उम्र वाले इन जुआरियों में चार के खिलाफ कई प्रकरण पूर्व से दर्ज हैं। गोहलपुर सीएसपी की अगुवाई में हनुमानताल और गोहलपुर की संयुक्त टीम ने दबिश देकर 21 जुआरियों से इतने ही मोबाइल और 1.61 लाख रुपए जब्त किए हैं। अब पुलिस चारों मुख्य जुआरियों के आपराधिक रिकॉर्ड को देखते हुए जिला बदर और एनएसए लगाने की तैयारी में है।

जानकारी के अनुसार गोहलपुर सीएसपी अखिलेश गौर को कई दिनों से जुआरियों के बारे में सूचना मिल रही थी। आरोपी काफी शातिर थे और स्थान बदल-बदल कर जुआ कभी चारखम्भा, मोहरिया या अधारताल में खिलवा रहे थे। लॉकडाउन और रमजान के बाद जुआ देर तक जमने लगा था। शुक्रवार रात को सीएसपी को सटीक सूचना मिली कि चारखम्भा में इम्तियाज तेल वाले के घर में छत पर जुआ सजा हुआ है।

दो थानों का बल लेकर सीएसपी ने दी दबिश
सीएसपी अखिलेश गौर ने तत्काल गोहलपुर व हनुमानताल थाने में रात में उपलब्ध बल के साथ दबिश दी। पुलिस को देख भगदड़ मच गई। हालांकि पुलिस की घेराबंदी के चलते कोई भाग नहीं पाया। मौके से 21 जुआरी दबोचे गए। इसमें से कोई मास्क नहीं लगाया था। पुलिस ने 21 मोबाइल और एक लाख 61 हजार रुपए जब्त किए।

चार मुख्य आरोपी खेला रहे थे जुआ
सीएसपी अखिलेश गौर के मुताबिक गिरफ्त में आए 21 जुआरियों में चार आलूबंडा, अफसर, पादा, इम्तियाज तेल वाला मुख्य आरोपी है। चारों गैंग बनाकर उक्त जुआ खिलवा रहे थे। चारों आरोपियों पर पूर्व में मारपीट, हत्या के प्रयास, चाकूबाजी के भी प्रकरण दर्ज हैं। अब पुलिस चारों के आपराधिक रिकॉर्ड के अनुसार जिला बदर और इम्तियाज तेल वाले का एनएसए की कार्रवाई करने की बात कही है।

आसपास के थे सभी जुआरी
गिरफ्त में आए 21 जुआरियों में सभी हनुमानताल, अधारताल, माढ़ोताल, गोहलपुर आदि क्षेत्र के रहने वाले हैं। सभी के खिलाफ गोहलपुर थाने में जुआ एक्ट की धारा 3/4 आपदा प्रबंधन, महामारी एक्ट की धारा 269, 270, 271 और धारा 188 भादवि का प्रकरण दर्ज करते हुए कोर्ट में पेश किया। जहां से सभी को जेल भेज दिया गया।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button