जबलपुरमध्य प्रदेश

अस्पतालों में बढे वायरल फीवर सर्दी खांसी पेट दर्द के मरीज: सीएमएचओ ने कहा- रखनी होगी विशेष सावधानी

 

जबलपुर, यश भारत l मौसम में हो रहे परिवर्तनों का असर व्यापक रूप से देखा जा रहा है जिसके चलते शासकीय, निजी और सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्रों में पेट दर्द, मरोड़, सर्दी-जुकाम, वायरल बुखार, सूखी खांसी के मरीज पहुंच रहे हैं। विशेषज्ञों के अनुसार ऐसे मौसम में शरीर के लिए संतुलन बैठाना मुश्किल होता है।

वे मरीजों को दवाइयों के साथ बचाव के लिए सावधानी बरतने की सलाह भी दे रहे हैं। मेडिकल अस्पताल से लेकर विक्टोरिया अस्पताल में मरीजों की कतार लग रही हैं। विशेषज्ञ डॉक्टर इस मौसम में बाहर खाने से बचने की सलाह दे रहे हैं। तो वही संजय मिश्रा सीएमएचओ ने कहा कि ऋतुओं की संधिकाल के कारण मौसम में उतार-चढ़ाव देखा जा रहा है जिसके कारण वायरल फीवर पेट दर्द सर्दी खांसी के मरीज लगातार बढ़ रहे हैं विशेष सावधानी रखने की आवश्यकता है।

 

डॉक्टरों के अनुसार सूखी खांसी की शिकायत लेकर आने वालों में ज्यादा संख्या बच्चों और बुजुर्गाें की है। उन्हें ठीक होने में पांच से सात दिन लग रहे हैं। विशेषज्ञों के अनुसार एंटीबायोटिक दवाइयां देने के बाद भी सूखी खांसी का पीरियड लम्बा हो रहा है। ऐसे में मरीज को भाप दिलाएं। बुखार को पूरी तरह से ठीक होने में सप्ताह भर का समय लग रहा है।

 

ये सावधानी बरतें

– बासी भोजन, खुले में रखी खाद्य सामग्री का सेवन नहीं करें

– शीतल पेय, आइसक्रीम का सेवन न करें।- बच्चे-बुजुर्गाें को ठंड से बचाएं।

– सुबह जल्दी टहलने न जाएं।- वायरल बुखार होने पर भीड़भाड़ वाले स्थानों पर नहीं जाएं।

– कमजोर इम्युनिटी वालों का विशेष ध्यान रखें।

 

इनका कहना है. …

मौसम में परिवर्तन के कारण तापमान में िस्थरता नहीं होने से असंतुलन का असर स्वास्थ्य पर पड़ रहा है। सूखी खांसी, वायरल बुखार के मामले आ रहे हैं। ऐसे में खान-पान को लेकर विशेष सावधानी बरतने की आवश्यकता है।

डॉ. संजय मिश्रा, सीएमएचओ जबलपुर

Rate this post

Related Articles

Back to top button