छत्तीसगढ़राज्य

अम्बेडकर अस्पताल के विशेषीकृत कोविड वार्ड से 534 मरीज ठीक होकर घर लौटे

रायपुर
कोरोना वायरस संक्रमण की लगातार फैल रही दहशत एवं आशंकाओं के बीच राजधानीवासियों के लिए राहत भरी खबर यह है कि सही समय पर इलाज मिल जाने से कोरोना संक्रमित मरीज अस्पताल से ठीक होकर घर भी जा रहे हैं।

अम्बेडकर अस्पताल में कोरोना के क्रिटिकल केयर प्रभारी डॉ. ओ. पी. सुंदरानी के मुताबिक अस्पताल में 1 अप्रैल 2021 से 15 अप्रैल 2021 तक कुल 534 मरीज डिस्चार्ज होकर जा चुके हैं। वर्तमान में अस्पताल में लगभग 500 मरीज भर्ती हैं उनका उपचार चल रहा है। अस्पताल में नये मरीजों का भर्ती होना, उपचार के बाद मरीजों का ठीक होकर डिस्चार्ज होना, फिर नये मरीजों का भर्ती होना यह क्रम लगातार चलता रहता है परंतु इन सबके बीच मरीजों के डिस्चार्ज होने से परिवार वाले भी खुश हो जाते हैं और इससे सभी लोगों के बीच सकारात्मकता का माहौल बन रहा है।  

डॉ. सुंदरानी के मुताबिक कोरोना के विरूद्ध जारी संघर्ष में सकारात्मकता और एहतियात ही विजय का मूलमंत्र है। अभी लॉकडाउन चल रहा है ऐसे में हमें घर बैठकर ही इस लड़ाई को जीतना है। हमारे स्वास्थ्य कार्यकर्ता, पुलिस और सफाई से जुड़े लोग दुगुने मेहनत के साथ अपनी ड्यूटी निभा रहे हैं। आप भी एक जिम्मेदार नागरिक की तरह लॉकडाउन का पालन कर अपनी जिम्मेदारी निभाईये और जो बीमार हैं उनका समय पर उपचार करवाईये। सोशल मीडिया में डराने वाले संदेशों को बिना सोचे-समझे दूसरों को फारवर्ड न करें। कोई भी संदेश जिसके बारे में आप ज्यादा नहीं जानते उन्हें वायरल करने से बचें। ये ऐसे प्रयास हैं जिन्हें आप कर सकते हैं और इस महामारी से उबरने में लोगों की मदद कर सकते हैं।

राजिम रोड हसदा नं. 2 निवासी 53 वर्षीय झम्मन साहू बताते हैं कि मेरी कोरोना जांच रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद बिना देर करते हुए घरवालों ने मुझे अम्बेडकर में भर्ती कराया। 5 अप्रैल को अम्बेडकर के आईसीयू में भर्ती हुआ और 15 अप्रैल को ठीक होकर डिस्चार्ज भी हो गया। आज मैं अपने घर में पोस्ट कोविड पीरियड में हूं और डॉक्टरों द्वारा बताये गये दिशानिदेर्शों का पालन भी कर रहा हूं। अम्बेडकर में हुए इलाज के बाद काफी राहत महसूस कर रहा हूं। झम्मन साहू की तरह कई लोगों की कहानियां है जिन्होंने कोरोना को मात दी हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button